Mastram Kahani मा की मस्ती - Printable Version

+- Sex Baba (//mypamm.ru)
+-- Forum: Indian Stories (//mypamm.ru/Forum-indian-stories)
+--- Forum: Hindi Sex Stories (//mypamm.ru/Forum-hindi-sex-stories)
+--- Thread: Mastram Kahani मा की मस्ती (/Thread-mastram-kahani-%E0%A4%AE%E0%A4%BE-%E0%A4%95%E0%A5%80-%E0%A4%AE%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A5%80)

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

फिर वो दिन भी आ गया,जिसका मनु को इतना इंतेज़ार था,आज के दिन उसने अपने सभी दोस्तों को पार्टी मे इन्वाइट किया हुआ था,और वो बहुत खुस था,सबसे पहले सुबह-2 आरती ने आ कर मनु को जनमदिन विश किया फिर तो जैसे कि फोन बंद ही नही हुआ.

रात को पार्टी मे मनु बहुत ही जॅंच रहा था,आज आरती ने भी एक बहुत ही सेक्सी गाउन पहना हुआ था,जो कि बॅकलेस था और जिसमे आरती का जिस्म सोने की तरह से चमक रहा था,सभी की नज़रे आरती पर ही अटक रही थी,एक बार तो मनु भी अपनी मा को देखता ही रह गया,और ये भूल गया कि आरती उसकी मम्मी है,उसका लंड आरती को इस रूप मे देख कर बिल्कुल तन गया था.

फिर जब सब लोग आ गये तो केक काटा गया,केक काट कर मनु ने सबसे पहले आपनी सेक्सी मा को खिलाया फिर बाकी सब के साथ शेअर किया,जब केक कट गया तो सबसे पहले अरविंद ने सबको शांत रहने को कहा और फिर अपनी जेब से एक छोटा सा गिफ्ट पॅक निकाल कर मनु को दिया,और उस-से कहा कि वो अपने पापा के गिफ्ट को खोल कर देखे सभी लोग उत्सुकता के साथ मनु के हाथ की तरफ देखने लगे.जब मनु ने गिफ्ट रॅप खोला तो अंदर से एक छोटी सी डिब्बी निकली,सबने सोचा कि कोई ब्रसलेट वगेरह होगा, पर जब वो डिबी खुली तो अंदर से एक केयरिंग निकला,जिसमे कि मनु की नई बाइक की चाबी थी,मनु तो मारे ख़ुसी के उछल पड़ा,उसके पापा ने उसको कोई भी हिंट नही दिया था कि वो मनु को बर्तडे पर उसकी मनपसंद बाइक देने वाले हैं,मनु जल्दी से घर के बाहर आया तो बिल्कुल गेट के सामने नयी यामेहा के लेटेस्ट मॉडेल की बाइक खड़ी थी,मनु की आँखे फटी की फटी रह गयी,जब उसको उसके दोस्तों ने गिफ्ट के लिए कंग्रेजुलेट किया तो उसे होश आया,वो दौड़ के अंदर गया और अपने पापा से चिपक गया.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

आज के दिन मनु के लिए ख़ुसीयो की कोई इंतेहा ही नही थी,फिर वो पापा से अलग हो कर अपनी मम्मी के पास गया और अपनी मा को अपने गले से लगा लिया,आरती के मोटे-2 मम्मे मनु की छाती मे रगड़ खाने लगे,ये मनु को भी महसूस हुआ कि उसकी छाती मे कुछ गरम चीज़ लग रही है,फिर वो अपनी मा से अलग हुआ.

इसके बाद वो सभी लोग पार्टी एंजाय करने लगे,जब मनु रमण से मिला तो उसने रमण से पूछा कि उसके गिफ्ट का क्या हुआ,रमण ने कहा कि मेरे भाई कुछ इंतेज़ार करो यहाँ पर वो गिफ्ट नही दिया जा सकता,तुम एक दो दिन इंतेज़ार करो,पार्टी मे सभी मस्त थे मनु और उसके दोस्तों ने बहुत एंजाय किया प्रिया भी पार्टी मे बहुत सेक्सी बन कर आई हुई थी मनु ने प्रिया के साथ खूब मस्ती और डॅन्स किया,फिर पार्टी ख़तम होने पर सभी अपने-2 घर चले गये.
अगले दिन जब रमण मनु के घर आया तो मनु और रमण मनु के कमरे मे आ गये,फिर कल की पार्टी की बाते होने लगी,रमण ने कहा कि मनु तुम्हारी किस्मत का तो जवाब नही, कल तुम्हारे पापा ने तुम्हे इतना शानदार गिफ्ट दिया है,मनु ने कहा रमण भैया वो तो ठीक है पर इस गिफ्ट का फ़ायदा तो तब है ना जब मेरी कोई गर्लफ्रेंड मेरे साथ बाइक हो,नही तो क्या फायेदा.रमण ने कहा यार तुम बहुत जल्दिबाजी करते हो मैने तुम्हे कहा तो है कि ऐसा ही होगा.तुम मुझ पर विश्वास करो.

फिर बात कल पार्टी मे आए हुए लोगों के बारे मे होने लगी,तो रमण ने कहा कि कल पार्टी मे तुम्हारी गर्लफ्रेंड प्रिया तो बहुत सेक्सी लग रही थी,पूरी पार्टी की नज़र उसपेर ही अटकी थी,या फिर वो कुछ ठहर कर बोला, कि तुम्हारी मम्मी भी कल की पार्टी मे गजब ढा रही थी,उनकी ड्रेस तो इतनी शानदार थी कि उसपेर से नज़र ही नही हट-ती थी,मनु भी रमण की इस बात से सहमत था,पर अपनी मा के बारे मे ऐसे खुले विचार व्यक्त करने मे उसको शरम आ रही थी,पर ये सच था कि उस दिन उसकी मा उसको भी गजब की सेक्सी लग रही थी,ये बात रमण भी भाँप गया और उसने कहा कि यार तुम्हारी मम्मी की ड्रेस सेन्स कमाल की है,ये तो मानते हो ना,मनु ने कहा कि हां वो जो गाउन मम्मी ने पहना था वो मम्मी पर बहुत ही जॅंच रहा था,तब रमण ने आगे कहा कि तुम्हारी मम्मी तो प्रिया से भी सुंदर लग रही थी,मनु ने कहा हां उस दिन मम्मी उस ड्रेस मे गजब की हसीन लग रही थी,रमण ने देखा कि अब मनु लाइन पर आ रहा है,तब रमण ने कहा कि प्रिया भी शॉर्ट स्कर्ट मे बहुत सेक्सी लग रही थी,अब तुम बताओ कि उस दिन तुम्हारी मम्मी और प्रिया मे कौन ज़्यादा सुंदर और सेक्सी लग रहा था?

अब मनु सोच मे पड़ गया कि क्या जवाब दे उसका दिल तो कह रहा था कि कह दे प्रिया मेरी मा के सामने कुछ भी नही लग रही थी,और मेरी मा तो गजब की सेक्सी लग रही थी,पर वो जवाब नही दे पा रहा था.

तब रमण ने ही कहा कि मनु अगर तुम बुरा ना मानो तो जो मेरे को लगा वो मे बोलता हूँ,तुम्हारी बर्तडे पार्टी मे तुम्हारी मम्मी ही सबसे ज़्यादा सुंदर और सेक्सी लग रही थी,अब मनु ने भी सोचा कि इसमे क्या शरमाना जब रमण ने सच्चाई कह ही दी है तो फिर उसने भी कहा हां भैया आप सच कह रहे हो.

इतने मे आरती नाश्ते के साथ आ गयी,आरती वहाँ पर ही बैठ गयी,फिर रमण ने कल की पार्टी का टॉपिक छेड़ दिया, वो बोला भाभी जी मुझे तो पता ही नही था कि आप इतनी ज़्यादा सुंदर हो कल वाली ड्रेस मे तो आप बिल्कुल हूर की परी लग रही थी.आरती ने कहा क्या आप भी जब देखो मेरी झूठी तारीफ ही करते रहते हो,जबकि मन ही मन वो बहुत खुस हो रही थी.रमण ये बात ताड़ गया,उसने कहा नही भाभी जी आप को मे सच कह रहा हूँ,बल्कि अभी मैं और मनु ये ही बात कर रहे थे कि उस दिन पार्टी मे सबसे सुंदर कौन लग रहा था,तो हम दोनो का ही ये मान-ना था कि उस दिन की पार्टी की जान आप ही थी.मनु ने कहा हां मम्मी रमण भैया सही कह रहे हैं,आप की ड्रेस का तो जवाब ही नही था,रमण ने कहा कि आप को मेरी बात ग़लत लगती है तो मैं उस पार्टी मे अपने मोबाइल से खींची हुई फोटो भी दिखा सकता हूँ,तब आरती ने कहा कि अच्छा चलो दिखाओ.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

रमण ने पार्टी मे आरती की बहुत सारी फोटो खींची थी,पर उन मे से सबसे ज़्यादा सुंदर और सेक्सी लगने वाली फोटो एक अलग फोल्डर मे डाल ली थी,उस ने अपना मोबाइल निकाला और वो फोल्डर खोल कर आरती के हाथ मे दे दिया,तब मनु ने कहा कि रमण भैया मुझे भी फोटो देखनी हैं, मुझे भी दिखाओ ना तब रमण ने कहा तुम अपनी मम्मी के साथ ही देख लो ना,आरती ने कहा कि बेटा तुम भी आ जाओ दोनो देख लेते हैं,मनु ने कहा कि ठीक है.

आरती ने जब पहली ही फोटो देखी तो वो खुस हो गयी उस फोटो मे वो गजब की सुंदर लग रही थी,फिर उस ने जल्दी से आगे की फोटो देखनी शुरू की जैसे-2 वो आगे बढ़ रही थी फोटो मे वो और सेक्सी लग रही थी,ऐसे लगता था कि रमण ने सारी पार्टी मे सिर्फ़ उसकी ही फोटो खींची हैं वहाँ पर उसकी हर ऐंगल से खींची हुई फोटो थी,किसी-2 फोटो को तो इस ऐंगल से खींचा गया था कि गाउन मे से क्लीवेज़ के साथ-2 मम्मों का भी बहुत सा भाग नज़र आ रहा था,मनु अपनी मम्मी को इस रूप में देख कर गरम होने लगा.मनु ने अपनी मम्मी से कहा कि मुझे नही पता था मम्मी की आप इतनी सुंदर हो,ये तो रमण भैया की खींची हुई फोटोज से पता चला कि आप इतनी सुंदर और सेक्सी भी हो.

आरती के गाल शरम के मारे लाल हो गये,उसने कहा कि रमण क्या पूरी पार्टी मे तुम मेरी ही फोटोज खींच रहे थे,यहाँ और किसी की भी फोटो नही है,तब रमण ने कहा कि वो कोई फोटोग्राफर का काम कोई नही कर रहा था,उसको तो जो सबसे अच्छा लगा वो उसी की फोटो खींच रहा था.

ये सुन कर आरती और लाल हो गयी,तब रमण ने गरम लोहे पर चोट करते हुए कहा कि मुझे नही पता था कि आप आजकल की मॉर्डन ड्रेस मे इतनी सेक्सी लगती हो,मनु ने भी कहा हा मम्मी आगे से आप ऐसी ही ड्रेसस खरीदा करो,आरती ने कहा कि वो तो हर तरह की ड्रेस पहनती है,अगर तुम लोगों को ये अच्छी लगी तो आगे से कोशिस करेगी कि मॉर्डन ड्रेसस ही खरीदे.

आरती अब खुलती जा रही थी,पहले उसको लगा कि मनु उसके बारे मे क्या सोचेगा, पर जब मनु ही ये कह रहा है तो फिर कोई बात ही नही है,हर औरत अपने आप को सेक्सी और सुंदर ही दिखाना कहती है,और वो कहती है कि सामने वाला उसको देखे और उसकी तारीफ करे,पर बोलने मे शरमाती है,रमण ये बात अच्छी तरह से जानता था,इसलिए वो आरती की खुल कर तारीफ कर रहा था आरती को भी अपनी तारीफ सुनने मे मज़ा आ रहा था 

रमण ने कहा भाभी जी आप को तो मॉडलिंग करनी चाहिए इतनी सेक्सी फिगर होने के बावजूद आप ऐसे क्यूँ रहती हैं आरती ने कहा कि बस भी करो आप तो मेरे ही पीछे पड़ गये हो, मनु को भी इन बातो मे मज़ा आ रहा था, वैसे भी अपनी मा की इतनी सेक्सी फोटोज देख कर उसका लंड खड़ा हो चुका था,इसलिए उसको इस तरह से रमण का अपनी मा से बात करने मे बड़ा ही मज़ा आ रहा था,और इन बातो से उसके लंड का तनाव बढ़ता जा रहा था

रमण ने मौका अच्छा समझ कर कहा कि इस सॅटर्डे को वो भी मनु के जनमदिन की ख़ुसी मे अपने कोचैंग सेंटर मे एक पार्टी रख रहा है,उस पार्टी मे आपने ज़रूर आना है,साथ मे अरविंद जी को भी लाना है,जबकि रमण को पहले से ही पता था कि उस दिन अरविंद सहर मे नही है,पर ये बात उसने जान कर कही थी,तब आरती ने कहा कि उस दिन तो अरविंद यहाँ नही होगा इसलिए उन लोगों का आना मुश्किल है,पर मनु ज़रूर आ जाएगा,तब रमण ने कहा कि भाभी जी अगर अरविंद जी नही हैं तो आप तो हैं आप ही मनु के साथ आ जाना

आरती ने कहा कि नही ऐसे अच्छा नही लगता,तब मनु ने कहा कि मम्मी आप को चलने मे क्या प्राब्लम है पापा से मे इजाज़त ले लूँगा,इस बात पर आरती ने कहा कि फिर वो चल चलेगी.

रात को जब वो सब खाना खा रहे थे तब मनु ने अरविंद से कहा कि पापा रमण भैया मेरे जनमदिन की ख़ुसी मे सॅटर्डे को अपने कोचैंग सेंटर मे एक पार्टी रख रहे हैं और इस पार्टी मे आपको और मम्मी को भी इन्वाइट किया है.अरविंद ने कहा कि बेटे मे तो फ्राइडे को ही काम से बाहर जा रहा हूँ,इसलिए मे तो आ नही पाउन्गा पर तुम लोग ज़रूर चले जाना.मनु खुस हो गया वो जो चाहता था वैसे ही हुआ था.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

सॅटर्डे की सुबह मनु को रमण ने एक पॅकेट दिया और कहा कि इसमे उसकी मा के लिए एक गिफ्ट है,मनु ने पूछा कि इसमे है क्या,तब रमण ने कहा कि आज के फंक्षन के लिए एक ड्रेस है,अपनी मम्मी से कहना कि आज रात को ये ही पहन कर आएँगी

मनु अंदर गया और जा कर अपनी मम्मी को रमण का दिया हुआ पॅकेट दिया,तब आरती ने पूछा कि ये क्या है,तब मनु ने कहा कि आप ही देख लो रमण भैया ने आप के लिए दिया है,इतने मे रमण का फोन आरती के मोबाइल पर आ गया,रमण ने पूछा कि गिफ्ट कैसा लगा,तब आरती ने कहा कि अभी उसने खोल कर नही देखा है,तब रमण ने कहा कि आप खोल कर देखो,मे होल्ड करता हूँ,जब आरती ने पॅकेट खोला तो उसमे एक बहुत ही सुन्दर स्कर्ट और साथ मे मॅचिंग टॉप था

आरती ने कहा कि इसका क्या मतलब है,तब रमण ने कहा कि उस दिन आपने ही तो कहा था कि आप भी नये-2 प्रकार की मॉर्डन ड्रेस पहनना कहती हैं,तो मैने सोचा कि आज की पार्टी मे अगर आप ये पहनेंगी तो बहुत सुन्दर लगेंगी,आरती ने कहा वो तो ठीक है पर ये ड्रेस तो बहुत ही ज़्यादा अल्ट्रा मॉर्डन लग रही है और फिर मनु भी साथ होगा तो उसको भी अजीब लगेगा,तब रमण ने कहा कि ऐसा कुछ नही है,वो भी अपनी मा को सुंदर और सेक्सी रूप मे देखना चाहता है,उस दिन मनु खुद ही तो कह रहा था,इसलिए उसको कोई फिकर करने की ज़रूरत नही है

आरती तो दिल से चाहती ही थी कि वो ये ड्रेस पहने,पर मनु के कारण थोड़ा सा शर्मा रही थी,पर जब रमण ने कन्विन्स किया तो वो मान गयी.

शाम को आरती पार्टी के लिए जब तैयार हुई तो वो जब ब्रा के ऊपर टॉप पहन-ने लगी तो टॉप ब्रा पर सूट नही कर रहा था,उस टॉप मे ब्रा पहन-ने की कोई गुंजाइश नही थी,अब आरती ने सोचा कि क्या किया जाए,पर जब कुछ नही सूझा तब उसने सोचा कि कोई बात नही है,और अपनी ब्रा हटा कर सिर्फ़ टॉप पहन लिया,टॉप स्लीव्लेस्स और सिर्फ़ मम्मों से शुरू होने वाला था फिर उसने स्कर्ट पहन कर जब अपने आप को शीशे मे देखा तो वो एक बार तो खुद को भी नही पहचान पाई.कि ये वो है या कोई और है.वो उन कपड़ों मे गजब की सेक्सी और कम उमर की लग रही थी.

इतने मे बाहर से मनु ने अपनी मा को आवाज़ दी कि मम्मी जल्दी करो चलना नही है क्या,तब आरती थोड़ा सा झिझकति हुई कमरे से बाहर आई,बाहर निकलते ही जैसे ही मनु की नज़र अपनी मम्मी पर पड़ी,तो उसकी तो आँखें फटी की फटी रह गयी,आज तो उसकी मा गजब का सेक्सी माल लग रही थी,उसका लंड अपनी मा को इस रूप मे देखते ही खड़ा हो गया,वैसे भी आज मनु को पहली बार चूत चोदने को मिलने वाली थी, इस ख़याल से ही उसका लंड बैठ नही रहा था,ऊपेर से उसकी मा को इस रूप मे देख कर तो वो पॅंट फाड़ कर बाहर आने को तैय्यार था,अगर आरती उसकी मा नही होती और आज मनु को प्रिया की चूत ना मिलने वाली होती तो वो आज जरुुर् अपनी मा आरती को चोद ही डालता.

जब आरती ने देखा कि मनु आँखें पड़े उसको देखता ही जा रहा है,तो वो और ज़्यादा शर्मा गयी,और उसके चेहरे पर हया की लाली आ गयी.

फिर उसने मनु को कहा कि मनु ऐसे क्या देखे जा रहे हो,क्या तुम्हे ये ड्रेसस्स अच्छी नही लग रही.
तब मनु ने कहा कि मम्मी मुझे तो आज आपकी तारीफ करने के लिए शब्द ही नही मिल रहे,मे सोच रहा हूँ कि आज तक आपने अपना ये रूप कहाँ छुपा रखा था.

मनु की ये बात सुन कर आरती और शर्मा गयी और बोली कि अगर तुम ऐसा बोलॉगे तो मे अपनी ड्रेस चेंज कर लूँगी.
मनु ने जल्दी से कहा कि मम्मी प्लीज़ ऐसा मत करना,आज इस ड्रेस मे आप बहुत ही शानदार लग रही हो,बल्कि सच-2 बोलूं तो बहुत ही सेक्सी लग रही हो,आप की उमर भी बहुत कम लग रही है इसलिए प्लीज़ ऐसा गजब मत करना,आज की पार्टी मे सब सिर्फ़ आपको ही देखेंगे,और आज की पार्टी की जान आप ही होगी 


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

इन सब बातो से आरती को अजीब सा तो लग रहा था पर मज़ा भी आ रहा था,आज उसका बेटा ही उसको सेक्सी बता रहा है, ये सोच कर वो मन ही मन बहुत खुस हो रही थी.

फिर मनु ने कहा कि मम्मी आज हम दोनो मेरी नयी मोटरसाइकल पर चलते हैं.

आरती ने कहा नही बेटे हम लोग ऑटो से चल चलेंगे.

मनु ने कहा कि नही आज जब मेरे जनमदिन की पार्टी है तो मे आपने जनमदिन के तोहफे पर क्यों ना जाउ
.
आरती बोली वो तो ठीक है पर इस ड्रेस मे मुझे तुम्हारे साथ बाइक पर बैठने मे बहुत दिक्कत होगी.

मनु बोला मा ऐसा कुछ नही है आप बैठो तो सही कोई प्राब्लम नही होगी.

फिर मनु ने बाइक निकली,और आरती मनु के पीछे बाइक पर बैठी,पर बाइक की सीट स्लॅंट होने की वजह से वो आगे हो गयी और ग्रिप नही बन पाई,तब मनु ने कहा कि मम्मी आप मेरे साथ होकर मुझे कस कर पकड़ लो फिर कोई डर नही लगेगा,आरती ने ऐसे ही किया,पर इस-से उसको मनु को कस कर पकड़ने से उसके शरीर का काफ़ी वजन मनु पर आ गया,और मनु को शरीर मे गर्मी महसूस होने लगी,फिर मनु ने बाइक स्टार्ट की और वो लोग रमण के कोचैंग सेंटर पर आ गये.

वहाँ पर रमण उन लोगों का ही वेट कर रहा था,जब उसने आरती को मनु के पीछे इस पोज मे देखा तब उसका लंड एकदम से तन-तनाने लगा.

आरती जैसे ही बाइक से उतर कर खड़ी हुई रमण तो उसको देखता ही रह गया,तब मनु ने कहा कि रमण भैया मेरी मा को ऐसे मत देखो,तब रमण की तंद्रा भंग हुई.

रमण ने कहा भाभी जी आप तो आजकल जब भी मिलती हैं आपकी उमर और कम से कम होती जा रही है,

आरती ने कहा हटो भी आप सब लोग मिल कर मुझे ऐसे ही चढ़ाते रहते हो,वहाँ मनु भी यही कह रहा था,अब आप भी.

रमण ने कहा तो इसमे ग़लत क्या है,आप लग ही ऐसी रही हो कि आप पर से नज़र ही नही हट रही ये ड्रेस तो जैसे आप ही के नाप से आप ही के लिए बनी है,ऐसा लग रहा है.

आरती बोली तो इसमे मे क्या करूँ आप ने तोहफा भेजा था और कहा था तो फिर पहन कर तो आना ही था.

रमण ने मन ही मन सोचा अच्छा ऐसा है तो मैने ग़लती कर दी मुझे इसको नंगा आने के लिए कहना चाहिए था.

पर बाहर से रमण ने कहा कि माइ प्लेषर,जो आप ने मेरी बात का मान रखा और मेरे तोहफे को इतना महत्व दिया.कि वो आपके जिस्म पर आ सके.

फिर वो लोग अंदर आ गये,जहाँ काफ़ी लोग आ चुके थे,सब मनु और उसकी मम्मी का इंतेज़ार कर रहे थे.
सभी की नज़रे एक बार तो आरती पर ही अटक रही थी,फिर सब ने मनु को विश किया.

इतने मे प्रिया भी वहाँ आ गयी और उसने आगे बढ़ कर मनु को हग कर लिया और उसको फिर से बर्तडे विश किया,प्रिया आज की ड्रेस मे बॉम्ब लग रही थी,आज की रात वो किसी अप्सरा की तरह से सज और संवर कर आई थी.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

मनु तो भौचक्का रह गया प्रिया को देख कर,आज उसकी लाइफ मे क्या हो रहा था वो समझ नही पा रहा था,एक तरफ तो उसकी खुद की मम्मी आइटम बनी हुई थी दूसरी तरफ प्रिया आइटम बॉम्ब बनी हुई थी,ये बर्तडे उसको ता जिंदगी याद रहने वाला था.

फिर पार्टी की शुरुआत करते हुए रमण ने कहा कि अब सबसे पहले मनु केक काटेगा,फिर पार्टी आगे बढ़ेगी.

मनु ने केक काटा और सबसे पहले अपनी मम्मी फिर प्रिया और फिर रमण को खिलाया,फिर प्रिया ने भी केक का एक टुकड़ा मनु को खिलाया और हाथ मे लगी हुई क्रीम को मनु के चेहरे पर लगा दिया.

पार्टी शुरू हो चुकी थी सब अपनी-2 मस्ती मे लग गये ड्रिंक्स और स्नॅक्स का दौर शुरू हो गया म्यूज़िक भी बजने लगा.
मनु ने रमण को एक साइड मे ले जा कर पूछा कि आगे क्या करना है,रमण ने कहा कि बस अब थोड़ा-2 खा पी लो फिर तुम अपना गिफ्ट खोल लेना,और एक आँख दबा कर बोला कि पीछे किसी भी कमरे मे प्रिया को ले जाना और मज़े करना.


मनु की तो ये सुन कर बाँछें खिल गयी,वो जल्दी से प्रिया के पास चला गया,और फिर वो दोनो बाते करने लगे,फिर मनु ने प्रिया को एक ड्रिंक ऑफर की जो उसने ले ली,अब दोनो मज़े से सीप करने लगे,बीच-2 मे मनु प्रिया पर हाथ भी फेर रहा था,प्रिया को रमण ने पहले से ही अपने साथ शामिल कर रखा था और कह रखा था कि आज की रात को वो मनु को अपनी चूत का मज़ा दे दे.

जिस-से कि उसके लिए भी थोड़ा सा आगे बढ़ना आसान हो जाए और मनु अपनी मम्मी की लेने मे रमण की मदद कर दे.
इस सब के बीच रमण आरती से चिपका हुआ था,और उसके साथ ही उसको ड्रिंक्स मे कंपनी दे रहा था,उसने आरती की बियर मे थोड़ी सी विस्की उस दिन की तरह से मिला दी थी,जिस-से की आरती को जल्दी ही सुरूर आने लगा था.

इतने मे वहाँ म्यूज़िक पर डॅन्स शुरू हो गया और मनु प्रिया को ले कर डॅन्स करने लगा,रमण ने भी आरती को डॅन्स करने को कहा, थोड़ी झिझक के बाद वो भी रमण के साथ डॅन्स करने लगी,डॅन्स करते-2 मनु प्रिया के अंग-2 से मज़े लेने लगा और वो भी मनु को अपने जिस्म के पूरे मज़े दे रही थी.

कुछ देर के बाद म्यूज़िक एक बार बंद हुआ तो सबरुक गये फिर ड्रिंक्स का दौर शुरू हो गया,अब तो प्रिया की आँखें बंद होने लगी थी,कुछ यही हाल आरती का भी हो रहा था,म्यूज़िक दुबारा शुरू होने पर मनु प्रिया को ले कर डॅन्स करने लगा और फिर थोड़ा सा साइड हो कर प्रिया को ले कर पीछे एक कमरे की तरफ चल दिया.

रमण ये देख रहा था जैसे ही मनु वहाँ से गया रमण ने आरती को डॅन्स के लिए कहा और उसको ले कर डॅन्स करने लगा, पर नशे के कारण आरती रमण से चिपकी जा रही थी और रमण का तो आज भाग्य ही खुल गया था,वो आरती से चिपक कर उसके जिस्म से अपने जिस्म को रगड़ रहा था.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

इधर मनु प्रिया को ले कर एक कमरे की तरफ गया और जैसे ही दरवाज़ा खोला तो अंदर पहले से ही सलीम एक लेडी टीचर की ले रहा था,वो लोग वहाँ पर पहले से ही चुदाई मे लगे हुए थे,मनु तो देखता ही रह गया,तब सलीम ने कहा कि यार देख क्या रहे हो तुम भी प्रिया को ले कर किसी दूसरे कमरे मे चले जाओ और वहाँ पर इसकी चूत मारो,यहाँ पर मुझे इसको पेलने दो और जाते-2 दरवाज़ा थोड़ा सा बंद कर देना.

मनु जल्दी से प्रिया को ले कर बाहर निकला और दरवाज़ा बंद कर दिया,फिर वो प्रिया को ले कर दूसरे कमरे मे आ गया.

अंदर आते ही मनु ने सबसे पहले कमरे को अंदर से बंद किया,फिर वो प्रिया से चिपक गया,और अपने होठ प्रिया के नरम और मुलायम गुलाबी होठों पर रख दिए,एक बार तो प्रिया के होठों की गर्मी से ही मनु पिघलने लगा,पर फिर अपने आप को संभाल कर वो प्रिया के कपड़े उतारने लगा,प्रिया भी अपने कपड़े उतारने मे मनु का सहयोग कर रही थी,फिर जब प्रिया पूरी नंगी हो गयी तब मनु ने भी अपने कपड़े जल्दी से उतार दिए.

दोनो जने नंगे हो कर आपस मे चिपक गये,मनु का तो ये पहला मौका था इसलिए वो जल्दी बाज़ी कर रहा था,पर प्रिया तो पहले से ही खेली खाई हुई थी, उसको कोई जल्दी नही थी,वो आराम -2 से मनु के लंड को हाथ मे ले कर आगे पीछे करने लगी,मनु का लंड बुरी तरह से तना हुआ था,और थोड़ा सा आगे पीछे करते ही उसमे से पिचकारी निकल गयी,और उसका लोड्‍ा लूज हो गया.

अब तो मनु एकदम से हड़बड़ा गया कि ये क्या हो गया,पर प्रिया को तो मालूम था कि ये मनु का पहला चान्स है,तो उसने मनु को कहा कि कोई बात नही,उसका लंड अभी फिर से खड़ा हो जाता है और वो वहीं बैठ गयी और मनु के लंड को पहले अपनी उतारी हुई पैंटी से साफ किया फिर अपना मूह खोल कर अपने मूह मे ले लिया.

मनु की तो एकदम से साँसें अटक गयी,और वो सीधा सातवें आसमान पर पहुँच गया,लंड की चुसाइ से मनु का लंड फिर से तुरंत ही खड़ा होने लगा था.

प्रिया ने मनु के लंड को अपने मूह से निकाल दिया,क्यूंकी और ज़्यादा चूसने पर वो नया खिलाड़ी था उसका लंड फिर से झाड़ सकता था.

मनु ने फिर प्रिया की चुचियो को दबाना शुरू कर दिया था, पर अब उसका लंड फिर से कड़क हो गया था,इसलिए उसने जल्दी से प्रिया को वहीं लिटाया,और फिर अपने लंड को उसकी चूत के मूह पर रख दिया,पर पहली बार होने के कारण उसे समझ नही आ रहा था कि इसको अंदर कहाँ और कैसे करना है,तब प्रिया ने मनु के लंड को अपने हाथ मे पकड़ा और अपनी चूत के मूह पर अच्छी तरह से फँसा दिया और उसको बोली कि अब तुम उपर से धक्का लगाओ,मनु ने ऐसा ही किया और उसका लंड थोड़ा सा प्रिया की चूत मे घुस गया,मनु को तो जैसे स्वर्ग का आनंद मिल गया पर तभी प्रिया ने कहा कि रुक क्यों गये अब ऑर तेज़ धक्का लगा कर इसको पूरे का पूरा चूत मे डाल दो.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

मनु को समझ नही आया कि अभी लंड और भी चूत के अंदर जाएगा,उसके लिए तो जितना अंदर चला गया था उतना ही बहुत था,पर जब प्रिया ने कहा तो उसने और तेज़ धक्का लगा कर अपना पूरा लंड प्रिया की भोसड़ा बन चुकी चूत मे डाल दिया 

जैसे ही मनु का लंड पूरा का पूरा प्रिया की चूत मे घुस गया, मनु के तो आनंद का कोई हिसाब ही नही रहा,उसको लगा कि आज जिंदगी मे जो मज़ा मिला है वो तो सबसे ज़्यादा है,मनु का लंड प्रिया की चूत मे घुस कर उसकी चूत की गरमी को पूरी तरह से महसूस कर रहा था,मनु तो प्रिया से बिल्कुल ही चिपक गया था,उसको ना होश था और ना ही पता था कि अब आगे कैसे होगा.

तब प्रिया ने मनु से कहा, कि मनु अब अपने लोड्‍े को थोड़ा सा बाहर निकाल कर फिर से धक्का लगाओ,और अंदर बाहर करो,मनु ने प्रिया की इंस्ट्रेक्षन को फॉलो किया तो चूत मे लंड के घर्षण से उसको और ज़्यादा मज़ा आया.

अब तो मनु और तेज़ी से लंड को आगे और पीछे करने लग गया.

प्रिया को भी आज एक कुँवारा और अनाड़ी लंड मिला था, इसलिए उसको भी मज़ा आ रहा था.

अब वो दोनो अपनी चुदाई मे पूरी तरह से मस्त हो गये थे.

इधर बाहर रमण आरती से चिपका हुआ था,और आरती के थोड़ा सा सुरूर मे होने का पूरा फ़ायदा उठा रहा था,वैसे भी अब आरती को भी मज़े आ रहे थे और उसने पहले की तरह से शरमाना कम कर दिया था,वो भी रमण की चिपका चिपकी का फुल मज़ा ले रही थी

रमण आरती के टॉप के उपर से ही उसकी पीठ पर धीरे-2 हाथ फेर रहा था,और उसकी गोरी काया के मज़े ले रहा था,आरती भी धीरे-2 गरम होने लगी थी.

फिर अचानक से जैसे आरती को कुछ होश आया और उसने अपने आप को संभाला,और वो एक झटके से रमण से अलग हो गयी,रमण को भी झटका लगा और वो समझ गया कि आरती अभी इस सब के लिए तैयार नही है.

वो आरती से अलग हो गया, और आरती ने एकदम से अपना सिर झुका लिया,पर आपस मे कोई कुछ नही बोल रहा था,तभी रमण आरती को ले कर आ कर बैठ गया.

तब आरती ने रमण से पूछा कि मनु कहीं नज़र नही आ रहा,कहाँ चला गया,रमण ने कहा कि यहीं कहीं होगा जाएगा कहाँ,आज वो भी अपनी बर्तडे पार्टी एंजाय कर रहा होगा

ये बात रमण की बिल्कुल सही थी,आज तो मनु सच मे अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी पार्टी को एंजाय कर रहा था

इस टाइम मनु और प्रिया दोनो एक दूसरे पर पड़े हुए थे,मनु तो आज दो बार झाड़ कर पूरा संतुष्ट हो गया था,पर प्रिया के साथ ऐसा नही था,उसको ज़्यादा मज़ा नही आया था,फिर भी वो मनु को ये शो नही कर रही थी.

फिर दोनो जने उठे और जल्दी-2 अपने कपड़े पहन लिए,और वहाँ से बाहर हॉल मे आ गये जहाँ पर पार्टी चल रही थी.

आरती की नज़र जैसे ही मनु पर पड़ी उसने पूछा कि मनु तुम कहाँ चले गये थे,मनु तो पहले ही तैयार था,उसने कहा कहीं नही बस यहीं इधर-उधर था

अब आरती ने कहा कि मनु देर बहुत हो रही है अब हम को आपने घर चलना चाहिए,मनु ने कहा कि ठीक है मैं रमण भैया से बोल कर आता हूँ.

मनु रमण के पास गया और बोला कि मम्मी अब घर जाने के लिए कह रही है,रमण ने कहा कि ठीक है,और वो भी मनु के साथ आरती के पास आ गया.


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

आरती रमण से बोली कि अब हम लोग चलते हैं,रमण ने कहा कि ठीक है मैं आप लोगों को छोड़ देता हूँ,तब मनु ने कहा कि रमण भैया उसकी कोई ज़रूरत नही है हम बाइक तो लाए ही हैं,उस पर ही चले जाएँगे.आप को तकलीफ़ करने की कोई ज़रूरत नही है.

रमण बोला कि तकलीफ़ की कोई बात नही ही पर क्यूंकी रात काफ़ी हो गयी है,और तुमने थोड़ी सी पी भी रखी है इसलिए कहीं तुम्हे कोई प्राब्लम ना हो जाए.

मनु बोला कि भैया ऐसी कोई बात नही है,मैने बियर ही तो पी थी और उसको भी बहुत देर हो चुकी है,इसलिए आप परेशान ना हो.

रमण आरती से बोला कि भाभी जी मैं तो आप लोगों की सहूलियत के लिए बोल रहा था.
आरती ने कहा कि ऐसी कोई दिक्कत नही है,मनु आराम -2 से बाइक को ले जाएगा.

फिर मनु ने बाइक स्टार्ट की और आरती को बोला कि मम्मी बैठ जाओ,आरती को बैठने मे थोड़ी सी दिक्कत हुई,तो रमण ने आरती को बाइक पर बैठने मे मदद की, उसका तो भाग्य एक बार फिर खुल गया,क्यूंकी आरती को बाइक पर मदद करने के बहाने एक बार फिर उसकी जवानी का छू कर मज़ा लेने का मौका जो मिल गया था.

अब वो सब लोग अपने-2 घर को चले गये. 

रास्ते मे आरती मनु के पीछे बैठी हुई थी और थोड़ा सा शराब और थोड़ा सा वासना का नशा होने की वज्जह से मनु से बिल्कुल ही चिपकी हुई थी,मनु भी आज पहली बार चूत मार के बहुत खुस था,और अपनी मा को इस रूप मे देख कर उसका लोड्‍ा फिर से तन गया था.

क्यूंकी जिसको एक बार चूत का मज़ा मिल जाए उसको तो फिर पता चल जाता है कि जन्नत यहीं पर है,फिर आरती सेक्सी तो लग ही रही थी,और आज मनु को याद आ रहा था कि रमण ने एक दिन कहा था कि जो मज़ा खेली खाई चूत मारने मे है वो नयी मे नही है,जैसे आज मनु के लंड को खून लग गया था तो उसको आपनी मा मे भी एक चूत ही लग रही थी,इस कारण से वो बाइक को बहुत ही धीरे-2 और मज़े से चला रहा था,क्यूंकी इस-से आरती के मम्मे मनु को पूरी तरह से महसूस हो रहे थे.और वो मम्मों की गरमी को महसूस कर रहा था.


फिर वो लोग अपने घर पहुँच गये,बाइक खड़ी कर के मनु ने आरती से कहा कि मा अब उतर जाओ,हम घर आ गये,आरती बाइक से उतरी तो उसका बॅलेन्स बिगड़ गया तब जल्दी से मनु ने उतर कर आरती को सहारा दिया, इस सब के बीच मे मनु के हाथ अपनी मा को मोटे-2 मम्मों पर पड़ गये,पर उसने उनको हटाया नही,फिर जब आरती सीधी हो गयी,तब मनु ने अपने हाथ हटा कर आरती को अपने कंधे का सहारा दिया,और आरती को ले कर घर मे अंदर आ गया,आरती का काफ़ी वजन मनु पर ही था,और वो आरती के मज़े ले रहा था,आज मनु का अपनी मा के प्रति सोचने का नज़रिया बिल्कुल ही बदल गया था और वो अपनी मा की जवानी को पूरी तरह से भोगना चाह रहा था


RE: Mastram Kahani मा की मस्ती - sexstories - 09-25-2018

फिर उसने आरती को ला कर उसके बेड पर लिटा दिया,आरती ने मनु को बोला कि बेटा अब तुम भी जा कर सो जाओ,देर बहुत हो गयी है,मनु ने कहा कि ठीक है मा.

पर मनु एकदम से आरती के बेडरूम से बाहर नही आया,और वहीं पर खड़ा हो कर आरती को इस सेक्सी रूप मे देखने लगा,इतने मे आरती की आँख खुल गयी और जब उसने देखा कि मनु वहीं खड़ा है तो उसने कहा कि बेटा तुम अभी तक गये नही,और यहाँ खड़े हो कर क्या देख रहे हो.

मनु बोला कि मा आज तुम मुझे बहुत ही सुंदर और सेक्सी लग रही हो,इसलिए मे तुम को ही देख रहा हूँ.

आरती बोली बेटा अब तुम जाओ और मुझे भी सोने दो अगर मैं तुम्हे इतनी ही सुंदर लग रही हूँ तो कल दिन मे देख लेना.

फिर मनु आरती के कमरे से बाहर आ गया,और अपने रूम मे सोने चला गया.

आज की रात मनु को नींद नही आने वाली थी,आज जो भी कुछ हुआ वो आज रात को उसको परेशान करने वाला था.

वही हुआ,रात को जैसे ही मनु कमरे मे आ कर बिस्तर पर लेटा,तो उसकी आँखों के सामने प्रिया का नंगा बदन नाचने लगा,फिर वो आँखों से ओझल हुआ ही था कि,मनु की आँखों के सामने उसकी मा आ गयी,फिर उसको उस सेक्सी रूप मे देख कर मनु का लंड फन-फ़ना गया,उसने सपने मे ही आपनी मा के मम्मों को दबाना शुरू कर दिया,इधर वो सपने मे आपनी मा की चुचियाँ दबा रहा था,और असल मे अपने लंड से मूठ मार रहा था,थोड़ी ही देर मे उसके लंड ने पानी फैंक दिया,पानी निकलते ही मनु को जैसे होश आया कि वो क्या कर रहा था और क्या सोच रहा था.

उसने देखा कि उसके कपड़े खराब हो गये हैं वो उठा और जा कर अपने आप को साफ किया और सिर्फ़ अंडरवेर बदल कर पहन ली और वैसे ही सोने लगा,पर फिर से उसकी मम्मी उसकी आँखों के सामने आ गयी,अब वो क्या करे?

यही सोचते-2 उसका हाथ हां और ना करते-2 फिर लंड पर चला गया, लंड महरमान फिर से खड़े और कड़े हो गये थे,वो फिर लंड पर हाथ चलाने लगा,पर इस बार उसने अंडरवेर हटा दिया,और फिर लंड से पानी निकल गया.

अब जा कर मनु को कुछ शांति मिली,पर लंड का हाल खराब हो गया था,आज पहले दो बार तो वो प्रिया के साथ झाड़ चुका था,और अब दो बार अपनी मा के नाम की मूठ मार कर उसके लंड मे दर्द होने लगा था.

फिर वो अंडरवेर पहन कर सो गया. 

सुबह मनु की आँख बहुत देर से खुली कल रात को देर से सोने के कारण और मूठ मारने के कारण आज उसको थकान महसूस हो रही थी,फिर भी वो बिस्तर से उठा और कपड़े पहन कर बाहर आया.

बाहर उसकी मा भी देर से ही उठी थी और वो अभी नाइटी मे घर के काम कर रही थी,मनु को देख कर वो बोली कि बेटा उठ गये आज बहुत देर तक सोते रहे.

मनु बोला कि हां मा आज नींद नही खुली,फिर स्कूल की तो आज छुट्टी ही है.फिर मनु की नज़र मा की नाइटी के खुले हुए गले पर गयी, वहाँ से उसे अपनी मा के मोटे-2 मम्मे बाहर निकलने को तैयार नज़र आए,तो उसका लंड फिर खड़ा होने लगा.


This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


ghagara pahane maa bahan ko choda sex storyjibh chusake chudai ki kahaniचुत शहलानाwww.xxx.petaje.dotr.bate.www.sexbaba.net/Thread-Ausharia Rai-nude-showing-her-boobs-n-pussy?page=4आने ससुर की पत्नी हो गई चुदवाके और मेरा पति मेरा बेटाristedaro ka anokha rista xxx sex khaniRaj shrmaचुदाई कहानीcold drink me Neend ki goli dekar dusre se chudvayaमम्मी की प्यास कोठे पर बुझाये सेक्स स्टोरीmona ke dood se bhare mamme hindi sex storyxxx chudai kahani maya ne lagaya chaskachoti ladki ko kaise Akele Kamre Mein Bulati Hai saxy videolandchutmaindalaमाँ बेटे का अनौखा रिश्तादेहाती चलाती बस मे लनड पकडाया विडियोsexbaba bahu ko khet ghumayablavuj kholke janvaer ko dod pilayaghar pe khelni ae ladki ki chut mai ugli karke chata hindi storyfudi tel malish sexbaba.netbacpan me dekhi chudai aaj bhi soch kr land bekabu ho jata hchudaikahanisexbabawinter me rajai me husand and wife xxxi gaon m badh aaya mastramamaijaan sax khaneyaaisi aurat, ka, phone, no, chahiye jo, chudwana, chagrin, homahadev,parvati(sonarikabadoria)nude boobs showingशरीर का जायजा भी अपने हाथों से लिया. अब मैं उसके चूचे, जो कि बहुत बड़े थेlal ghulda ka land chuttv acters shubhangi nagi xxx pootosolva sawan roky chudaimona xxx gandi gandi gaaliyo mbaratna deshi scool thichar 2018 sex video ,cosexbaba photos bhabi ji ghar parबॅकलेस सारी हिंदी चुदाई कहाणीsapna chudrhe sxy vedosexstory leena ka mayka35brs.xxx.bour.Dsi.bdomamei ki chudaei ki rat br vidoeBachhi ka sex jan bujh kar karati thi xxx vidioSamantha sexbabaXxx dase baba uanjaan videobhabi Kay ROOM say aaaaaah ki awaj aana Hindi maybudhoo ki randi ban gayi sex storiesbathroomphotossexJacqueline fernandez nude sex images 2019 sexbaba.netpond me dalkar chodaiBhavi chupke se chudbai porn chut hd full.comlamb kes pahun land sex marathi storytuje sab k shamne ganda kaam karaugi xxopicnigit actar vdhut nikar uging photuSunny Kiss bedand hot and boobs mai hath raakhadase opan xxx familsex nidhhi agerwal pohtos vedioblouse pahnke batrum nhati bhabhixxx.mausi ki punjabn nanade ki full chudai khani.inkis chakki ka aata khai antarvasnasahar ki saxy vidwa akeli badi Bhabi sax kahanihttps://www.sexbaba.net/Thread-kajal-agarwal-nude-enjoying-the-hardcore-fucking-fake?page=34priyaka hot babasexy nagi photopagdandi pregnancy ke baad sex karna chahiyemadarchod gaon ka ganda peshabmaa ko pore khanda se chud baya sixy khahaniyajhadiyo me chudwate pakda chudai storyPichala hissa part 1 yum storiesFudhi katna kesm ki hati haiप्रेमगुरु की सेकसी कहानियों 11kaali kaluti bahan ki hotel me chut chudaeimaa ko gand marwane maai maza ata haAunty ko jabrdasti nahlaya aur chodaanti beti aur kireydar sexbaba