Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - Printable Version

+- Sex Baba (//mypamm.ru)
+-- Forum: Indian Stories (//mypamm.ru/Forum-indian-stories)
+--- Forum: Hindi Sex Stories (//mypamm.ru/Forum-hindi-sex-stories)
+--- Thread: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले (/Thread-porn-hindi-kahani-%E0%A4%B5%E0%A4%A4%E0%A4%A8-%E0%A4%A4%E0%A5%87%E0%A4%B0%E0%A5%87-%E0%A4%B9%E0%A4%AE-%E0%A4%B2%E0%A4%BE%E0%A4%A1%E0%A4%B2%E0%A5%87)

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

अंजलि ने बाथरूम में जाते ही अपने ब्रा और पैन्टी उतार कर एक साइड पर फेंके और राफिया ने साइड पर होकर अंजलि को शॉवर के नीचे खड़ा होने की जगह दी। खुद वह साइड पर गई ताकि अंजलि शॉवर लेकर यहां से जल्दी जा सके। अंजलि भी ठंडे पानी के नीचे खड़ी हुई तो उसको आराम मिल गया मगर उसकी चूत शांत होने का नाम नहीं ले रही थी। अंजलि ने कुछ देर शॉवर के नीचे खड़ी होकर अपने सिर और शरीर पर पानी डाला और फिर अपनी आँखें खोलकर राफिया को घूरने लगी। अंजलि ने राफिया को उसके सिर से पांव तक गौर से देखा और फिर इसे एक स्माइल दी।राफिया ने हैरान होकर अंजलि से पूछा क्या हुआ? तुम ऐसे क्यों घूर रही हो? 

अंजलि बोली तुम्हारा सुंदर शरीर देख रही हूँ, बहुत सुंदर हो तुम।

राफिया अपनी तारीफ सुन कर थोड़ी सी शरमाई और अंजलि को देखते हुए बोली तुम भी कुछ कम नहीं है। 

अंजलि ने राफिया को कहा तुम्हारे बूब्स बहुत सुंदर हैं। यह कह कर अंजलि थोड़ा आगे बढ़ी और राफिया का हाथ पकड़ कर अपनी तरफ खींचा। अब राफिया थोड़ा घबराई और बोली यह क्या कर रही हो ?? अंजलि ने कहा चिंता मत करो कुछ नहीं कर रही। तुम साइड पर जो खड़ी हो तुम भी नहा लो। बल्कि मैं तुम्हारी कमर में साबुन लगा देती हूँ, मेरी कमर पर तुम लगा देना ताकि समुद्री रेत अच्छी तरह साफ हो सके। 

राफिया ना चाहते हुए भी शावर के नीचे आ गई जहां अब अंजलि और राफिया के शरीर आपस में मिल रहे थे और दोनों एक दूसरे के शरीर से गर्मी निकलती महसूस हो रही थी। अंजलि घूमकर राफिया के पीछे आ गई और हौले हौले अपने हाथ राफिया की कमर पर फेरने लगी। उसका हाथ फेरने का अंदाज ऐसा था जैसे कोई लड़का लड़की के साथ सेक्स करते हुए नरमी से उसकी कमर सहलाता है। फिर अंजलि ने पास पड़ा साबुन उठाया और राफिया की गर्दन से लेकर उसकी कमर तक साबुन को धीरे धीरे फेरा।

फिर साबुन साइड मे रखकर अंजलि अपने हाथों से राफिया की कमर की मालिश करने लगी। राफिया इसी दुविधा में थी कि अंजलि को यह सब करने से मना करे या नहीं, मगर वह कोई फैसला नहीं कर पा रही थी। और अंजलि लगातार राफिया की कमर पर मालिश किए जा रही थी। उसका मालिश करने का तरीका ऐसा था कि राफिया को मज़ा भी आ रहा था और उसकी गर्मी भी बढ़ रही थी। अंजलि ने राफिया की कमर के ऊपरी भाग पर जहां कंधों की हड्डी निकली होती है, वहाँ अपने हाथों की उंगलियों से धीरे धीरे ऊपर नीचे मालिश किया, उसके बाद वह नीचे होती गई और राफिया की बल खाती ब्लाउज के बीच में आकर वहां अपने हाथ फेरने लगी। फिर वहां से आगे नीचे आई और राफिया के 34 इंच के बड़े बड़े चूतड़ों पर भी अपना हाथ फेरा। इससे पहले कि राफिया अंजलि को ऐसा करने से मना करती वह खुद ही वापस ऊपर की तरफ आ गई। और फिर से कमर पर मालिश करने लगी। फिर अंजलि ने फिर से साबुन उठाया और राफिया के सामने जा कर उसके बदन पर साबुन फेरने लगी। गले से कुछ नीचे छाती पर साबुन रखकर अंजलि ने अपना हाथ घुमाना शुरू किया और और नीचे लाते हुए राफिया के 36 इंच सुडौल और कसे हुए मम्मों पर साबुन फेरने लगी। इस दौरान अंजलि ने मुस्कुराते हुए राफिया को देखा और बोली रात को इमरान तो तुम्हारे तुम्हारे मम्मों पर मर मिटा होगा ??

अंजलि की बात सुनकर राफिया थोड़ा नर्वस हो गई, उसे समझ नहीं आ रही थी कि क्या करे मगर उसने हंसने की कोशिश की और बोली हां इमरान तो मर मिटा था इन पर . इस दौरान अंजलि का हाथ राफिया के मम्मों से नीचे आकर उसके पेट पर साबुन मसलने में व्यस्त था। पेट पर साबुन लगाने के बाद अंजलि ने साबुन फिर से साइड में रख दिया और राफिया के शरीर पर फिर से हाथ फेर कर मालिश करने लगी। लेकिन अब की बार अंजलि कमर की बजाय राफिया के सीने पर हाथ फेर रही थी और उसके हाथ राफिया के मम्मों पर गोल गोल घूम रहे थे, राफिया को अब इस खेल में मजा आने लगा था, अब वह अंजलि को रोकने के बारे में सोच नहीं रही थी और चाह रही थी कि जैसे चल रहा है चलता रहे ये काम। 

अंजलि अब हौले हौले राफिया के मम्मों को दबा रही थी। वह अपने हाथों से राफिया का पूरा मम्मा पकड़ कर उसको थोड़ा मसलती और फिर अपनी मुट्ठी बंद करके उसको हौले से दबा देती जिससे राफिया की एक सिसकी निकलती। फिर अंजलि ने अपनी एक उंगली और अंगूठे को मिलाकर राफिया का एक निप्पल पकड़ लिया और उसको हौले हौले दबाने लगी जिससे राफिया की चूत गीली होना शुरू हो गई थी। और वह आंखें बंद किए अंजलि की हरकतों के मजे ले रही थी। अंजलि ने भी राफिया की तड़प को महसूस कर लिया था और यही वो चाहती थी। इमरान का लंड लेने के लिए राफिया आराम चाहिए था और अंजलि अपने इस उद्देश्य में काफी हद तक सफल हो चुकी थी। मगर अभी लोहा पूरी तरह गर्म नहीं हुआ था। अब राफिया को और गर्म करना था ताकि वह इमरान के लंड से अंजलि की चुदाई पर भी राजी हो सके। यह सोच कर अंजलि ने अब राफिया के मम्मों को जोर से दबाना शुरू कर दिया था और अपनी एक टांग ऊपर उठाकर राफिया के पैर के आसपास लपेट ली थी और पांव से राफिया की टांग को रगड़ रही थी। राफिया बिना हरकत किए अंजलि को यह सब करने दे रही थी

फिर अंजलि ने राफिया के मम्मों को दबाना बंद किया और फिर राफिया के पीछे जा कर खड़ी हो गई और कमर पर कुछ देर मालिश करने के बाद बैठ कर राफिया के चूतड़ों को भी मसलने लगी। चूतड़ों को मसलते मसलते अंजलि ने राफिया के चूतड़ों को पकड़ कर थोड़ा खोला और उसके अंदर भी अपना हाथ फेरने लगी। अब की बार राफिया ने काँपती हुई आवाज़ में कहा, यह क्या कर रही हो ??? प्लीज़ ऐसे मत करो .. मगर अंजलि कहाँ रुकने वाली थी वह बोली तुम्हारे पीछे भी कुछ रेत लगी हुई है वह साफ कर रहा हूँ अच्छी तरह से। यह कह कर उसने राफिया की गाण्ड के छेद में अपनी उंगली फेरना शुरू कर दी और राफिया ने अब अपने दोनों हाथ दीवार के साथ लगा दिए और अपनी गाण्ड को थोड़ी बाहर निकाल दिया ताकि अंजलि अच्छी तरह उसकी गाण्ड के छेद को छेड़ सके। उसके साथ साथ अब राफिया ने सिसकियाँ लेना शुरू कर दी थीं और अंजलि इस अवसर का लाभ उठाते हुए राफिया को और गर्म करना चाहती थी। कुछ देर तक वह इसी तरह राफिया की गाण्ड से छेड़छाड़ करती रही फिर वह अपनी जगह से खड़ी हो गई और राफिया को शॉवर के नीचे ले आई, 

शॉवर के नीचे लाकर अंजलि ने राफिया के बदन पर हाथ फेरना शुरू किया और उसके बदन से साबुन साफ करने लगी। साथ ही उसने अपने नरम और नाजुक होंठ राफिया के गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठों पर रख दिए और उनको चूसने लगी। राफिया जो अब काफी गर्म हो चुकी थी और उसकी चूत चिकनी पानी छोड़ रही थी उसने भी अंजलि को त्वरित प्रतिक्रिया देना शुरू कर दिया और उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगी। अब पहली बार राफिया ने खुलकर इस समलैंगिक सेक्स को एंजाय करना शुरू किया था। उसके हाथ पहली बार अंजलि के बदन को छू कर उन्हें प्यार कर रहे थे। होंठ चूसते हुए राफिया ने अंजलि की एक टांग उठा कर अपनी कमर के आसपास लपेट ली थी और उसके चूतड़ों अपने हाथों से दबाने लगी थी

अंजलि भी अब सेक्स की आग में जलती हुई राफिया के लबों को चूस रही थी और अपनी जीभ उसके मुँह में प्रवेश कर राफिया की ज़ुबान के साथ खेल रही थी। अंजलि का एक हाथ रफिया के मम्मे पर था जिसको वह जोर से दबा रही थी और कभी कभी उसके निप्पल को अपनी उंगलियों और अंगूठे से पकड़ कर हौले से मसल देती तो राफिया की एक सिसकी निकलती। कुछ देर तक अंजलि राफिया के होंठ चूसती रही फिर उसने राफिया के होंठों को छोड़ा और थोड़ा नीचे झुक कर राफिया की सुराही दार लंबी गर्दन पर अपने दांत गढ़ा दिए, और उसको अपने होठों से चूसने लगी। अंजलि कभी राफिया की गर्दन पर सामने की ओर अपने होठों से प्यार करती तो कभी गर्दन की साइड पर अपने दांत गढ़ा कर बेहद क्रूर तरीके से उसकी गर्दन पर प्यार करती। 


राफिया इस हमले के लिए तैयार नहीं थी, अंजलि के इस हमले ने राफिया को पागल कर दिया था उसकी सिसकियाँ अब बाथरूम में गूंजने लगी थीं और उसे समझ नहीं आ रहा था कि वह मिलने वाले आनंद को कैसे व्यक्त करे। मगर अंजलि यहां रुकने वाली नहीं थी, गर्दन से नीचे आकर अब अंजलि राफिया के मम्मों को चूस रही थी। राफिया के 36 आकार के गोल और सुडौल कसे हुए मम्मों पर अंजलि की ज़ुबान ऐसी चल रही थी जैसे कोई बच्चा कौन आइसक्रीम को कोण से अपनी जीभ से चूस्ता है। राफिया के मम्मों को चूसने के साथ अंजलि का एक हाथ राफिया के एक चूतड़ पर जाकर उसके 34 इंच के बड़े और मांस से भरे हुए चूतड़ों को भी दबा रही थी

राफिया की सिसकियों में लगातार वृद्धि हो रही थी और बाहर बैठा इमरान भी उसकी सिसकियों को एंजाय कर रहा था। कुछ कुछ इमरान को समझ लग गई थी कि आगे क्या होने वाला है, मगर वह इस बारे में अंतिम राय कायम करने में असमर्थ था। बाथरूम की चारदीवारी कांच की थी मगर ब्लाइंड कांच की वजह से बाहर बैठे इमरान को अंदर मौजूद 2 नग्न और सेक्सी लड़कियों का शरीर तो नज़र नहीं आ रहा था मगर उनकी काली छाया नुमा अक्स ज़रूर नज़र आ रहे थे और उसको पता था कि दोनों लड़कियों अंदर सेक्स के मज़े ले रही हैं। और उस पर राफिया की सिसकियाँ इमरान के कानों में रस घोल रही थीं इमरान को काफी उम्मीद थी कि कुछ ही देर के बाद इमरान इन दोनों लड़कियों की टाइट चूत में अपने लंड के धक्के लगाएगा और बारी बारी दोनों की चुदाई करके उनकी चूतों का पानी निकलवाएगा है। मगर तब उसकी उम्मीदों पर पानी फिर गया जब अंदर से राफिया की सिसकियाँ आना बंद हो चुकी थीं और वो दोनों अब एक दूसरे से अलग हो चुकी थीं। अंजलि अब शावर के नीचे अकेली खड़ी अपने गीले बदन पर पानी डाल रही थी जबकि दूसरी ओर राफिया स्तब्ध खड़ी अंजलि को नहाते हुए देख रही थी



RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

नहाते हुए अंजलि बार बार अपने होंठ काट रही थी और राफिया की ओर भूखी नज़रों से देख रही थी, जबकि राफिया की उंगलियां उसकी चूत पर गोल गोल घूम रही थीं। बाहर बैठे इमरान को इस बात का अंदाजा नहीं था कि राफिया की उंगलियां उसकी चूत पर हैं और वहाँ गर्मी बढ़ती जा रही है, वह तो समझ रहा था कि अंदर का शो खत्म हो गया और अब वह नहा धो कर बाहर निकल आएंगी। मगर अंजलि के मन में कुछ और ही था। अपने शरीर पर अच्छी तरह से पानी डालने के बाद वह बाथरूम के बाहर आई और राफिया को कहा अब वह भी कुछ देर शॉवर ले कर अपने शरीर को ठंडा कर ले ताकि अंजलि समय पर यहां से निकल सके और लोकाटी के होटल के कमरे में जाकर इंडिया जाने की तैयारी कर सके। राफिया अभी और सेक्स जारी रखना चाहती थी मगर अंजलि के यूं साइड पर हट जाने के बाद वह कुछ भी कह नहीं पाई। जबकि पहली बार एक लड़की के बदन पर प्यार करके बहुत मज़ा आया था और अंजलि के हाथों और ज़ुबान नेराफिया के शरीर पर अपने प्यार के निशान डाल कर राफिया को एक नई दुनिया की सैर करवाई थी और राफिया अभी इस खेल को जारी रखना चाहती थी मगर उसकी उम्मीदों पर भी पानी फिर गया जब अंजलि ने उसके शरीर से खेलना छोड़ दिया। तीव्र इच्छा के बावजूद राफिया अंजलि से अपनी इस इच्छा को व्यक्त नहीं कर पाई और चुपचाप शॉवर के नीचे खड़ी होकर अपने बदन पर पानी डालने लगी मगर यह ठंडा ठंडा पानी उसकी चूत को शांत करने की बजाय और गर्म कर रहा था

अंजलि को अब अपना बदन सुखाने के लिए एक टावल की जरूरत थी जोकि बाथरूम में मौजूद नहीं था, अंजलि ने बाथरूम का हल्का सा दरवाजा खोला और इमरान को आवाज देकर टावल पकड़ाने को कहा। इमरान ने टूटे हुए दिल के साथ खड़े होकर साथ वाली अलमारी से टावल निकाला और अंजलि के हाथ में पकड़ा दिया जो बाथरूम के दरवाजे से बाहर निकला हुआ था। इमरान मात्र अंजलि का हाथ ही देख पाया था। जबकि अंजलि का बदन ब्लाइंड कांच के दरवाजे से काले साए के रूप में दिख रहा था जिससे अंजलि का सीना और बूब्स भी स्पष्ट थे, इमरान का एक पल दिल किया कि वह दरवाजा धकेल कर अंदर दाखिल हो जाय और राफिया और अंजलि की दोनों चूतों को शांत कर दे मगर फिर कुछ सोचकर उसने ऐसी मूर्खतापूर्ण हरकत करने से परहेज किया और अंजलि के हाथ में टावल पकड़ा दिया

जैसे ही इमरान ने अंजलि के हाथ में टावल पकड़ाया और वापसी के लिए मुड़ने लगा टावल अंजलि के हाथ से गिर गया। इमरान को लगा कि टावल नीचे गिरा है ताकि वह वापस मुड़ा तो टावल उठाकर वापस अंजलि को पकड़ा सके, मगर वापस मुड़ने पर उसकी हैरानी की इंतिहा नहीं रही जब उसने देखा कि अंजलि थोड़ा दरवाजा और खोलकर आगे झुककर टावल उठाने की कोशिश कर रही थी, नीचे झुकी हुई अंजलि के 36 आकार के मम्मे हवा में लटक कर इमरान को आमंत्रित कर रहे थे। अंजलि के गोरे गोरे लटकते हुए मम्मे देखकर इमरान पर वासना हावी हो गई, 

अंजलि ने जब यह महसूस किया कि इमरान उसके सामने खड़ा उसी को घूर रहा है वह भी टावल को भूलकर एकदम सीधी खड़ी हो गई मगर वापस अंदर नहीं गई। और फिर तुरंत ही अंजलि ने सबसे पहले अपने दोनों हाथ अपने सीने पर मौजूद उभारों पर रख कर उनको छिपाने की कोशिश की, फिर उसे अपनी चूत का भी ख्याल आया जोकि इमरान के लंड को अपनी ओर खींच रही थी। चूत का ख्याल आते ही अंजलि ने अपना एक हाथ अपने मम्मे से हटाया और दूसरे हाथ को फैलाकर अपने दोनों मम्मों पर रख कर मम्मों को छुपा लिया और अपना दूसरा हाथ अपनी चूत पर रख कर उसको छिपाने की कोशिश करने लगी, मगर वह अपनी जगह से हिली नहीं और वापस अंदर नहीं गई। राफिया इससे बेखबर आंखें बंद किए शॉवर के नीचे खड़ी अपने चेहरे पर ठंडा ठंडा पानी गिरा रही थी

इमरान भी अपनी जगह स्तब्ध खड़ा अंजलि के गोरे बदन पर नज़रें गाढ़े हुए था, मगर इमरान का लंड उसके छोटे से शॉर्ट्स में खड़ा हो चुका था और अंडरवेअर न होने की वजह से अच्छा खासा उभार बनाकर तम्बू का रूप ले चुका था। अंजलि की नजरें भी अब इमरान के शॉर्ट्स के उभार पर थी जिसे इमरान ने भी महसूस कर लिया था। अंजलि बिना आंखें झपकाए इमरान के लंड के उभार को देख रही थी और फिर अंजलि ने अपनी जीभ बाहर निकाली और अपने होठों पर फेरने लगी। वह अब तक अपने हाथ से अपने मम्मे छिपाए खड़ी थी और अपनी चूत को दूसरे हाथ से छिपा रखा था। मगर उसका ज़ुबान निकालकर अपने होंठों पर फेरना इमरान को स्पष्ट संकेत था कि उसकी चूत इमरान के लंबे और मोटे लंड के लिए बेताब है। 

इमरान ने हिम्मत की और कुछ कदम अंजलि की ओर आगे बढ़ा, इमरान को अपनी ओर आता देख कर अंजलि ने भी फाइनल राउंड खेलने की ठानी और अपने बूब्स से हाथ हटा कर एक कदम इमरान की ओर बढ़ी और अपना एक हाथ इमरान के लंड पर रख दिया। इससे पहले इमरान भी अपने हाथ अंजलि के पहाड़ जैसे गीले मम्मों पर रखता अंजलि ने इमरान के लंड को पकड़ कर अपनी ओर खींचा और वापस कदम बाथरूम की ओर बढ़ाने लगी। इमरान भी बिना चूं चा के अंजलि के साथ ही बाथरूम में घुस आया

क़दमों की आहट महसूस कर राफिया ने अपनी आंखें खोलकर अंजलि को देखा तो उस पर भी वासना का नशा सवार हो गया, अंजलि इमरान को उसके लंड से पकड़कर बाथरूम में ला चुकी थी और धीरे धीरे राफिया की ओर बढ़ रही थी। इस दृश्य को देखकर राफिया ने भी अपने दोनों हाथों से अपने मम्मे छुपा लिए मगर फिर चूत का ख्याल आने पर अपनी चूत को भी एक हाथ से छुपाया और दूसरे हाथ से अपने दोनों बूब्स को छिपाने की कोशिश करने लगी, और काँपती हुई आवाज़ में बोली अ ... अंजलि .... यह यह क ... ज ... क्या कर रहही हो ???

अंजलि ने वासना भरी नजरों से राफिया की तरफ देखा और बोली मैं तो तुम्हारी गर्मी नहीं समाप्त कर सकती और न तुम मेरी गर्मी खत्म करके मुझे ठंडा कर सकती हो, लेकिन इमरान के शॉर्ट्स में यह जो चीज़ है यह हम दोनों की गर्मी को हटा सकती है। तो क्यों न इसका लाभ उठाया जाए।यह कह कर अंजलि इमरान को लंड से पकड़कर खींचती शॉवर तक ला चुकी थी। इमरान को करीब पाकर राफिया कुछ दूर हट कर खड़ी हो गई थी। उसके भ्रम व गुमान में भी नहीं था कि अंजलि इस हद तक जा सकती है। जबकि उसकी चूत में भी आग लगी हुई थी मगर उसके लिए यह बात स्वीकार्य नहीं थी कि वह किसी और लड़की के साथ उसके प्रेमी से चुदाई करवाए। इसलिए वह अभी तक क्रोध और शर्म की मिलीजुली स्थिति में साइड पर खड़ी हाँफ़ रही थी जबकि अंजलि इमरान को शॉवर के नीचे खड़ा करके उसके बदन पर हाथ फेर कर उसको मालिश दे रही थी ताकि पानी से उसके बदन की थकान भी दूर हो


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

राफिया फटी फटी आँखों से अंजलि की ओर इमरान को देख रही थी, अंजलि इमरान के साथ जुड़कर खड़ी थी और अपना एक हाथ इमरान की कमर पर जबकि दूसरा हाथ इमरान की छाती पर फेर रही थी जबकि अपने पैर ऊपर उठाया अपनी थाईज़ को इमरान के खड़े लंड के साथ रगड़ रही थी। जब इमरान का सीना पूरा गीला हो गया और रेत और पसीने के प्रभाव समाप्त हो गए तो अंजलि ने अपनी ज़ुबान निकालकर इमरान के सीने पर फेरना शुरू कर दी, अंजलि इमरान के साथ लगकर खड़ी थी एक हाथ पीछे कमर पर जबकि दूसरा हाथ सीने में और पैर ऊपर उठाकर इमरान के लंड से खेल रही थी और ज़ुबान इमरान के सीने मौजूद छोटे मगर सख्त निपल्स पर थी। इमरान भी अपने लंड पर अंजलि के पैर और निपल्स पर अंजलि की ज़ुबान को महसूस कर गर्म हो रहा था और वह अब जल्द से जल्द अंजलि की चूत में अपना लंड डाल देना चाहता था।पहले से ही वाटर स्कूटर पर अंजलि ने इमरान के लंड को खूब परेशान किया था और अभी भी काफी देर से वह बाथरूम के शीशे की दीवार से अंजलि और राफिया का सेक्स देखकर अपना लंड दबा रहा था। अब अंजलि और राफिया दोनों बिल्कुल नंगी उसके सामने खड़ी थीं, राफिया को तो वह कल रात खूब चोद चुका था अब उसका लंड अंजलि की चिकनी चूत के लिए तड़प रहा था

राफिया अब तक अपने आप को इस स्थिति के लिए तैयार नहीं कर पाई थी वह महज स्तब्ध खड़ी हैरानगी और बेचैनि की मिलीजुली स्थिति में अंजलि को इमरान के बदन से लिपटा देख रही थी। अब इमरान ने भी उसे प्रेरित किया और राफिया की तरफ हाथ बढ़ाकर उसको हाथ से पकड़ कर अपने पास कर लिया। इमरान ने राफिया को हाथ से पकड़ कर खींचा तो उसका हाथ उसके मम्मों से हट गया, इमरान ने राफिया को खींच कर अपना एक हाथ तुरंत उसके मम्मों पर रख दिया और दूसरा हाथ उसकी कमर के चारों ओर लिपटा कर उसके चूतड़ों तक ले गया। राफिया ने अपने आप को छुड़ाने की हल्की सी कोशिश की मगर फिर उसकी चूत ने मौजूदा हालात से समझौता करने का सुझाव दिया जिसे राफिया सहर्ष अपनाया अब बाथरूम में राफिया की सिसकियाँ एक बार फिर शुरू हो चुकी थीं। इमरान अपने हाथ से न केवल राफिया के मम्मों को दबा रहा था बल्कि राफिया की तरफ झुक कर उसके निपल्स को भी अपने मुँह में लेकर चूस रहा था जिससे राफिया की चूत जो पहले की तुलना में ठंडी हो चुकी थी फिर से गर्म होना शुरू हो गई थी और राफिया भी अब अपने एक हाथ से इमरान के लंड को पकड़ कर मसलने लगी थी। उसकी सिसकियाँ धीरे धीरे बढ़ती जा रही थी

अंजलि जो इमरान के लंड को अपनी चूत में अंदर बाहर होता देखना चाहती थी उसकी कोशिश सफल हो चुकी थी, राफिया भी अब चुदाई के लिए तैयार थी और इमरान को तैयार करना तो कोई समस्या ही नहीं थी वह तो शायद खुद भी इस बात के लिए तैयार था बस अंजलि से एक संकेत चाहिए था जो उसको मिल चुका था। स्थिति पूरी तरह से अनुकूल देख अब अंजलि अधिक देर नहीं करना चाहती थी, उसने नीचे बैठ कर इमरान की शॉर्ट्स उतार दी और जैसे ही इमरान का 8 इंच लंबा और मोटा लंड सांप की तरह फुंफ़कार्ता हुआ अंजलि के सामने सीना तान कर खड़ा हो गया तो अंजलि एक पल के लिए तो अपनी आंखें झपकाना ही भूल गई थी .


उसने जैसा सोचा था इमरान का लंड उससे भी बढ़कर मोटा और लंबा था।और उसके लंड की दृढ़ता लंड पर दिखने वाली नसों से स्पष्ट हो रही थी। अंजलि ने बिना समय बर्बाद किए इमरान के लंड को अपने हाथ में पकड़ कर एक बार जोर से दबा कर उसकी सख्ती का अंदाजा लगाया तो उसके मन में लड्डू फूटने लगे। उसको ऐसा ही जानदार लंड चाहिए था, लोकाटी के लंड से चुदवा कर उसने अपनी चूत को शांत तो किया था मगर जो चुदाई अंजलि की जवान और टाइट चूत चाहती थी वह उसको नहीं मिल सकी थी। इमरान के लंड से उसे पूरी उम्मीद थी और उसका लंड हाथ में पकड़ा तो चूत ने अंजलि को संदेश दिया कि हाँ यही लंड है जो मुझे अपने अंदर जल्दी चाहिए

अंजलि ने अपने हाथ से इमरान के लंड की मुठ मारना शुरू किया और जब इमरान के लंड की टोपी पर वीर्य की बूँदें चमकने लगी तो अंजलि ने अपनी जीभ बाहर निकाली और अपनी जीभ की नोक से वीर्य की इन बूंदों को चाट कर साफ़ कर दिया और फिर इमरान का मोटा लंड अपने मुँह में लेकर उसको चूसने लगी। अंजलि ने इमरान के लंड की चुसाइ शुरू की तो इमरान सोच में पड़ गया कि राफिया से अच्छी चुसाइ करती है या अंजलि ??? 

रात जो राफिया ने इमरान के लंड की चुसाइ की थी इमरान को उससे बहुत मज़ा आया था और उसका मानना था कि राफिया से अच्छी चुसाइ और कोई नहीं लगा सकता उसके लंड की ... मगर अब वह तय नहीं कर पा रहा था कि किसकी चुसाइ ने अधिक मजे दिए थे फिर उसने यही सोचा जिसका भी हो ज़्यादा मज़ा आज तो जीवन में पहली बार 2, 2 जवान चूतें उसके लंड से चुदने के लिए तैयार हैं लंड चुसवाना भूल जा और चुदाई का सोच। दोनों चूतों को ऐसे चोदना है कि फिर उन्हें किसी और का लंड ऐसा मज़ा न दे। हर चुदाई में उन्हें इमरान का लोड़ा याद आना चाहिए

अंजलि ने राफिया को भी हाथ से पकड़ कर अपनी तरफ खींचा तो वह भी अंजलि को लंड की चुसाइ करता देख कर उसके साथ ही बैठ गई और इमरान के वीर्य से भरे हुए आंडों को मुंह में लेकर चूसने लगी। इमरान के आंडों और लंड के आसपास काफी हल्के हल्के पतले बाल थे जिसकी वजह से इमरान को मज़ा आता जब राफिया उसके आंदो को चुस्ती और लंड के आसपास अपनी ज़ुबान फिराती . राफिया ने अंजलि के मुँह से इमरान के लंड को निकाला और उस पर एक साइड से ज़ुबान फेरने लगी, अंजलि भी लंड की दूसरी साइड पर अपनी जीभ फेरने लगी और दोनों मिलकर इमरान के लंड को चूसने लग गईं। कभी अंजलि इमरान के लंड को मुंह में डाल कर उसको 3, 4 बार अंदर बाहर करती तो कभी राफिया इमरान के लंड मुंह में लेकर शरप शरप कर के चुसाइ लगाती

दोनों के चुसाइ लगाने के तरीके से इमरान को बहुत मज़ा आने लगा था और उसको अपने लंड में पानी भरता महसूस होने लगा। अंजलि अब इमरान के लंड की लगातार चुसाइ लगा रही थी, वह कोशिश कर रही थी कि इमरान का पूरा लंड अपने मुंह में ले ले मगर ऐसा संभव नहीं था, 8 इंच का लंड मुंह में लेना अंजलि के बस की बात नहीं थी। आधे से कुछ अधिक लंड अंजलि के मुँह में जाता तो उसकी सांस रुकने लगती मजबूरन वह लंड को टोपी तक बाहर निकालती और उस पर अपनी जीभ फेरती और फिर से लंड अपने मुंह में अन्दर बाहर करने लग जाती। जबकि राफिया अब इमरान के आंडों को अपने हाथ में पकड़ कर उन पर ज़ुबान फेर रही थी कभी वह आँड मुंह में लेकर चूसने लगती और कभी इमरान के पैरों के नीचे होकर आंडों के पीछे मौजूद लाइन में अपनी ज़ुबान फेरती .


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

वाटर स्कूटर पर अंजलि की गांड के घर्षण और अब 2 सेक्सी लड़कियों की लंड चुसाइ ने इमरान के लंड को वीर्य से भर दिया था, इमरान को लग रहा था कि किसी भी समय उसका लंड वीर्य वर्षा छोड़ देगा, उसने काँपती हुई आवाज में अंजलि को बताया कि वह छूटने वाला है तो अंजलि ने लंड अपने मुंह से बाहर निकाल लिया और मुंह के सामने लाकर दोनों हाथों से पकड़ कर उसके लंड की मुठ मारने लगी, राफिया ने भी इमरान के आंडों को हाथ में पकड़ कर रगड़ना शुरू कर दिए। इमरान की अब सिसकियाँ निकलना शुरू हो गई थी, उसको अपने लंड में सुई की सी चुभन महसूस होने लगी। अंजलि ने एक पल को अपने हाथ रोके, मुंह में लार का गोला बनाकर इमरान के लंड टोपी पर थूक फेंका और अपने हाथों से उसके पूरे लंड पर मालिश करने लगी, इस दौरान वह बार बार अपने हाथों के अंगूठे को इमरान के लंड की टोपी पर फेरती रही ...


अब इमरान को अपने लंड में ऐसे लगने लगा जैसे कोई बारीक सी चीज़ आंडों से निकलकर टोपी की ओर बढ़ने लगी है, इमरान ने अंजलि को कहा कि वह छूटने वाला है, अंजलि जो लंड को मुंह के सामने किए तेजी के साथ इमरान के लंड की मुठ मार रही थी उसने इमरान के लंड की टोपी का रुख तुरंत अपने मुँह की तरफ से हटा कर अपने मम्मों की ओर कर दिया, जैसे ही इमरान के लंड ने अंजलि के सुडौल और कसे हुए मम्मे देखे उसने अपने अंदर से वीर्य की एक धार निकाली जो सीधा अंजलि के मम्मों पर जाकर गिरी और अंजलि को अपने मम्मों पर वीर्य की गर्माहट महसूस होने लगी, इस बीच अंजलि ने अपने हाथ नहीं रोके और लगातार इमरान के लंड की मुठ मारती रही जिसकी वजह से इमरान का लंड अविराम वीर्य की तेज धारें अंजलि के मम्मों पर छोड़ता रहा

पिछले कुछ झटकों में राफिया ने इमरान के लंड को पकड़ कर अपनी ओर कर लिया जिससे इमरान के वीर्य की अंतिम धार सीधी राफिया के मुंह पर जाकर गिरी, राफिया के होंठ इमरान के वीर्य से भर गए थे। जब इमरान अंतिम झटका भी मार चुका और राफिया को लगा अब ज़्यादा वीर्य नहीं निकलेगा तो उसने इमरान के लंड को मुंह में ले लिया और उसकी टोपी पर लगे वीर्य की बूँदें चूसने लगी।


2, 4 और जानदार चुसाइ लगाने के बाद जब इमरान के लंड का सारी वीर्य गायब हो गया तो राफिया ने अपना रुख अंजलि के बूब्स की तरफ किया और उसके मम्मों पर लगा इमरान का वीर्य अपनी जीभ से चाटने लगी। इस दौरान राफिया की ज़ुबान अंजलि के निपल्स को भी छूने लगी जिससे अंजलि को एक झुरझुरी सी आई और उसका दिल किया कि राफिया उसी तरह उसके निपल्स को चाटती और चुसती रहे, लेकिन राफिया का सारा ध्यान इस समय इमरान का वीर्य चाटने पर था । जब वह सारा वीर्य राफिया के मम्मों से चूस चुकी तो उसने आगे बढ़ कर अपने होंठ अंजलि के होंठों पर रख दिए। अंजलि को राफिया के होंठ और जीभ पर इमरान के वीर्य स्वाद महसूस हुआ तो उसने भी राफिया के लबों को जी भर कर चूसा और उसकी ज़ुबान को अपने मुँह में लेकर उसका भी चूसा

इमरान का 8 इंच लंबा लंड अब थोड़ा ढीला पड़ गया था मगर उसके सामने अंजलि और राफिया दोनों एक दूसरे के बदन से खेलने में व्यस्त थी जिसकी वजह से इमरान का लंड पूरी तरह बेजान नहीं हुआ बल्कि उसकी कुछ सख्ती बाकी रही। राफिया अब अंजलि को बाथरूम में ही लिटा चुकी थी और उसकी टाँगें खोल कर अपनी जीभ से अंजलि की टाइट और सुंदर हल्की गुलाबी चूत चाट रही थी। अंजलि की चूत के होंठ आपस में सख्ती से मिले हुए थे इससे राफिया को अंदाज़ा हो गया था कि कल रात उसके लोकाटी अंकल ने टाइट चूत के खूब मजे लिए होंगे। अंजलि की चूत पर भी हल्के हल्के बाल थे शायद उसने भी 2 दिन पहले ही अपनी चूत के बाल साफ किए थे। राफिया ने अपनी एक उंगली अंजलि की चूत में डाली तो उसे ऐसे लगा जैसे अभी उसकी उंगली जल जाएगी,

अंजलि की चूत किसी दहकते अंगारे की तरह गरम थी और उसका चिकना चिकना पानी भी आग बुझाने में नाकाम रहा था, राफिया ने उंगली चूत से बाहर निकाली तो उस पर अंजलि की चूत का गाढ़ा पानी मौजूद था जो राफिया ने अपने मुंह में डाल उंगली से चूस लिया। उसके बाद फिर से राफिया ने अपनी उंगली अंजलि की चूत में डाली और उंगली अन्दर बाहर करने लगी। अंजलि का भी किसी लड़की के साथ यह पहला सेक्स था वह भी अपनी चूत में राफिया की उंगली चुदाई को एंजाय कर रही थी। राफिया अंजलि की चूत पर लेट चुकी थी, उसकी उंगली अब भी चूत के अंदर हलचल मचा रही थी जबकि राफिया ज़ुबान अंजलि की चूत के दाने पर थी जिससे अंजलि मजे की ऊंचाइयों पर पहुँच चुकी थी और लगातार सिसकियाँ निकाल रही थी। कुछ देर और राफिया अंजलि की चूत में उंगली करती रही जिससे अंजलि की चूत में बाढ़ आ गई और उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ा, मगर इस दौरान राफिया ने अपना चेहरा साइड में नहीं हटाया और सारा पानी राफिया के मुंह पर आकर गिरा, कुछ पानी राफिया ने पी लिया, जबकि बाकी उसके मुंह पर लगा रह गया


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

अंजलि की चूत किसी दहकते अंगारे की तरह गरम थी और उसका चिकना चिकना पानी भी आग बुझाने में नाकाम रहा था, राफिया ने उंगली चूत से बाहर निकाली तो उस पर अंजलि की चूत का गाढ़ा पानी मौजूद था जो राफिया ने अपने मुंह में डाल उंगली से चूस लिया। उसके बाद फिर से राफिया ने अपनी उंगली अंजलि की चूत में डाली और उंगली अन्दर बाहर करने लगी। अंजलि का भी किसी लड़की के साथ यह पहला सेक्स था वह भी अपनी चूत में राफिया की उंगली चुदाई को एंजाय कर रही थी। राफिया अंजलि की चूत पर लेट चुकी थी, उसकी उंगली अब भी चूत के अंदर हलचल मचा रही थी जबकि राफिया ज़ुबान अंजलि की चूत के दाने पर थी जिससे अंजलि मजे की ऊंचाइयों पर पहुँच चुकी थी और लगातार सिसकियाँ निकाल रही थी। कुछ देर और राफिया अंजलि की चूत में उंगली करती रही जिससे अंजलि की चूत में बाढ़ आ गई और उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ा, मगर इस दौरान राफिया ने अपना चेहरा साइड में नहीं हटाया और सारा पानी राफिया के मुंह पर आकर गिरा, कुछ पानी राफिया ने पी लिया, जबकि बाकी उसके मुंह पर लगा रह गया



राफिया की चूत का पानी निकालने के बाद अब राफिया उठी और अंजलि के सीने पर जा पहुंची, अंजलि के सीने पर पहुंचकर राफिया उसके ऊपर होकर बैठ गई और दोनों पैर साइड पर निकाल दिए, फिर थोड़ा आगे बढ़ी और अपने घुटने अंजलि के कंधों से आगे निकाल दिए, ऐसे में राफिया की चूत बिल्कुल अंजलि के मुँह के ऊपर आ गई, अंजलि ने कभी किसी लड़की की चूत नहीं चाटी थी मगर वह लोड़े की चुसाइ करना जानती थी, उसने राफिया की चूत पर एक नज़र डाली तो देखा कि उसकी चूत पहले से ही काफी सूजी हुई थी और होंठ भी काफी खुले हुए थे, उसका मतलब था कि वो अक्सर अपनी चुदाई करवाती रहती थी। लेकिन सच्चाई तो यह थी कि राफिया ने महज कुछ बार ही अपने पुराने प्रेमी अराज से चुदवाया था, उसकी चूत का यह हाल तो कल रात की चुदाई की वजह से हुआ था जब इमरान एक घंटे से ज़्यादा उसकी नाजुक चूत की चुदाई करता रहा। अंजलि ने राफिया की चूत देखने के बाद अपनी ज़ुबान निकाली और ज़रा सा चेहरा ऊपर उठा कर राफिया की चूत को चाटने लगी तो राफिया ने अपनी चूत और नीचे कर ली ताकि अंजलि को गर्दन ऊपर न उठानी पड़े। इस स्थिति में अंजलि बेहतर तरीके से राफिया की चूत को चाट सकती थी। अंजलि की ज़ुबान बा आसानी राफिया की चूत के लबों को खोल कर उसके अंदर जा रही थी। जिससे राफिया को बेहद मज़ा आ रहा था। उसका भी यह पहला अनुभव था किसी लड़की से अपनी चूत चटवाने का


इमरान अब राफिया के सामने जाकर खड़ा हो गया और अपना लंड हाथ में पकड़ कर राफिया के आगे किया। राफिया का चेहरा पहले नीचे की ओर था वह अंजलि को अपनी चूत चाटते हुए देख रही थी, मगर अपनी नाक के पास लंड की खुशबू को पाकर उसने तुरंत चेहरा ऊपर किया तो उसके सामने इमरान का खड़ा लंड हिल रहा था। 4 इंच का यह लंड राफिया ने तुरंत अपने हाथ में पकड़ लिया और उसको चूसने लगी। राफिया के मुंह की गर्मी पाते ही इमरान के लंड में हलचल शुरू हो गई और कुछ ही देर की चुसाइ से ही इमरान का लंड फिर से 8 इंच का लोड़ा बन गया जिस पर अब राफिया शड़प शड़प की आवाज के साथ चुसाइ लगा रही थी। वह चुसाइ लगाते लगाते इमरान के आंडों भी पकड़ कर मसलती जिससे इमरान के लंड में और अधिक सख्ती आ जाती ... कुछ देर चुसाइ लगवाने के बाद जब इमरान को लगा कि उसका लंड अब पहले की तरह जानदार हो गया है तो उसने राफिया के मुंह से अपना लंड निकाला और नीचे लेटी अंजलि के पैरों की ओर चला गया। वहां जाकर उसने अंजलि के पैर पकड़ कर थोड़ा खोला और बीच में बैठ गया। जैसे ही अंजलि को मालूम हुआ कि इमरान उसकी टांगों के बीच में है उसने राफिया को अपने चेहरे से हटा दिया, क्योंकि यही वह क्षण था जिसके लिए उसने इतनी मेहनत की थी, वह देखना चाहती थी कि इमरान का लंड कैसे उसकी टाइट चूत में जाता है। इमरान ने अंजलि को थाईज़ से पकड़ा और उसे अपनी ओर खींच लिया, अंजलि की चूत अब जमीन से कुछ ऊँची थी और उसकी थाईज़ एक दम इमरान के घुटनों के ऊपर थी और इमरान का लंड अंजलि की टाइट चूत से टकरा रहा था। 


अंजलि की टाइट चूत देखकर इमरान का दिल चाहा कि वह ऐसी चिकनी टाइट और गुलाबी चूत को चाटे मगर उसके लंड ने इमरान के कान में फुसफुसाया कि पहले मुझे अंजलि की टाइट चूत के अंदर की सैर करवा दो उसके बाद चूत को चाट भी लेना इमरान ने अपने लंड की बात मानी और लंड पकड़ कर एक दो बार अंजलि की चूत के ऊपर मारा जिससे अंजलि की सिसकियाँ निकलने लगी। अंजलि ने इमरान से कहा जान प्लीज़ मत तड़पाओ अपना यह मजबूत लंड डाल दो मेरी चूत में ... वह अपनी गर्दन ऊपर उठाए अपनी चूत और इमरान के लंड का आपस में मिलान देख रही थी। चूत पर लंड ने दस्तक दी तो उसकी चिकनाहट में भी एकदम से बढ़ गई, इमरान ने अपने लंड की टोपी अंजलि की चूत पर सेट की और हल्का सा जोर लगाया तो लंड की टोपी चूत में चली गई। 8 इंच का लंड 3 इंच मोटी टोपी अंजलि की चूत में गई तो उसकी एक सिसकी निकली और उसने पास खड़ी राफिया के पैर को अपने हाथों से जोर से पकड़ लिया जिससे अंजलि के नाखून राफिया की थाईज़ में गढ़ गए। इमरान ने और जोर लगाया मगर चूत ने अपना मुंह बंद कर लिया था .... इमरान ने खुश होकर अंजलि की तरफ देखा और बोला वाह, तुम्हारी चूत तो बहुत टाइट इसको चोदने का बहुत मजा आएगा। यह कह कर उसने लंड को थोड़ा बाहर निकाला और एक जोरदार धक्का मारा। इमरान के इस धक्के से इमरान का लंड अंजलि की चूत की दीवारों को छीलता हुआ अंदर चला गया और अंजलि की अब एक जोरदार चीख निकली जिससे पूरा बाथरूम गूंज उठा

मगर इमरान रुका नहीं, उसने एक बार फिर अपना लंड बाहर निकाला केवल अपनी मोटी टोपी ही अंदर रहने दी और फिर जोरदार धक्का मारा जिसकी तीव्रता पहले धक्के से अधिक थी, इस बार इमरान का लंड करीब करीब सारे का सारा अंजलि की चिकनी चूत की गहराई में उतर गया, और अंजलि लगातार चीखें मारने लगी, उसने आज से पहले इतना मोटा और सख्त लंड कभी अपनी चूत में नहीं लिया था। उसकी आँखों से पानी निकल रहा था मगर इमरान ने उसकी चूत पर दया नहीं खाई, क्योंकि वह जानता था कि अगर लड़की को चोदने का मज़ा लेना है तो उस पर दया नहीं खाना, साथ ही लड़की को भी चुदाई का मज़ा आएगा और लंड भी फुल मजे में रहेगा। इमरान ने एक धक्का और मारा जिससे इमरान का 8 इंच लंबा लंड जड़ तक अंजलि की चूत की गहराई में उतर चुका था। और अंजलि को लग रहा था जैसे इमरान का लंड उसके पेट में प्रवेश कर चुका है। 

इमरान ने अभी बिना रुके हौले हौले अंजलि की चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिए थे, अंजलि चीख तो रही थी मगर उसने एक बार भी लंड बाहर निकालने को नहीं कहा, क्योंकि वह भी जानती थी कि उसके कहने पर न तो इमरान लंड बाहर निकालेगा, और ना ही लंड बाहर निकालने से कोई फर्क पड़ेगा, क्योंकि जैसे ही लंड चूत से निकला, चूत फिर से लंड की मांग करेगी। इसलिए अंजलि ने यही बेहतर समझा कि जैसे इमरान चोद रहा है वैसे ही चुदाई करवाई जाए ताकि अधिक से अधिक मज़ा इस चुदाई का आए


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

कुछ धक्कों के बाद अब लंड बा आसानी अंजलि की चूत में जा रहा था और अंजलि की चूत ने भी अब इमरान के लंड के मजे लेने शुरू कर दिए थे। पहले पहल अंजलि की चूत दर्द के कारण सूख गई थी मगर अब फिर से लंड के धक्कों से अंजलि की चूत चिकनी हो चुकी थी। इस चिकनाहट के कारण अब लंड बा आसानी अंदर बाहर हो रहा था। इमरान के हर धक्के पर अंजलि के शरीर को एक झटका लगता और उसके मम्मे जेली की तरह हिलने लगते, साथ ही अंजलि की सिसकियाँ ओह .... ओह .... ओह .... आह ... आह आह आह ह ह ह ह उफ़ एफ एफ एफ एफ आह ह ह ह ह इमरान। । । । आह आह आह जोर से ... आह आह आह ... उफ़ एफ एफ एफ एफ एफ एफ उम म म म म। । । । । और तेज इमरान, और तेजी से चोदो ... आह आह आह ... बाथरूम बंद होने की वजह से अंजलि की सिसकियाँ और भी अधिक गूंज रही थीं जिससे माहौल काफी सेक्सी हो गया था, जब अंजलि की चूत इमरान के लंड की आदी हो गई और चूत ने लंड को आसानी से अंदर आने और बाहर जाने की अनुमति दे दी तो अंजलि ने एक बार फिर राफिया को देखा और उसकी चूत अपने मुँह के ऊपर करके उसको चाटने लगी

अब बाथरूम अंजलि और राफिया दोनों की आवाज़ों से गूँज रहा था, अब की बार राफिया अंजलि के मुँह के ऊपर इस तरह बैठी थी कि उसका रुख इमरान की ओर था, नीचे से अंजलि की ज़ुबान राफिया की चूत के लबों में जाकर उसको मज़ा दे रही थी तो सामने से इमरान के हाथ राफिया के मम्मों को दबाने और उसके तने हुए सख्त निपल्स को मसलने में व्यस्त थे जिससे राफिया की सिसकियाँ निकल रही थीं, जबकि नीचे इमरान का लंड अंजलि की नाजुक चूत को चोदने में व्यस्त था। कुछ ही देर चुदाई के बाद अंजलि को लगा कि उसकी चूत पानी से भर रही है तो उसने राफिया की चूत से मुँह हटा कर इमरान को कहा कि वह फारिग होने वाली है अपने धक्कों की रफ़्तार बढ़ा दो, इमरान ने उत्साह और तेजी के साथ अंजलि को चोदना शुरू कर दिया, अब इमरान ना केवल तेजी से धक्के लगा रहा था बल्कि हर धक्का पहले से अधिक जानदार होता था, इमरान चाहता था कि जब अंजलि की चूत पानी छोड़े तो इमरान का हर धक्का उसके लिए यादगार रहे कुछ और धक्के लगाने के बाद इमरान को अपना लंड गीला होता लगा और साथ ही उसके लंड पर गर्म पानी भी लगा और अंजलि की चूत से पिचक पिचक की आवाजें आने लगी जबकि उसके मुंह से आह ह ह ह ह ह ह ह ह ह ह ह उफ़ एफ एफ एफ एफ एफ लंबी सिसकी भी निकली। अंजलि की चूत पानी छोड़ चुकी थी

जब अंजलि की चूत पानी छोड़ने से पूरी गीली हो गई तो इमरान ने उसकी चूत से अपना लंड निकाल लिया और राफिया की तरफ बढ़ा। राफिया को इमरान ने खड़ा किया और उसकी पीठ बाथरूम की दीवार केसाथ लगा दी। उसके बाद उसके पैरों को थोड़ा खोला और अपना लंड राफिया की चूत के छेद पर रख कर अपने होंठ राफिया के होंठों से मिला दिए, राफिया ने इमरान के होठों को तुरंत चूसना शुरू किया तो उसे ऐसे लगा जैसे नीचे उसकी चूत में कोई लोहे का गर्म रॉड घुस गया हो। इमरान ने एक जानदार धक्का रफिया की चूत में मारा था जिससे से आधे से अधिक लंड राफिया की सूजी हुई चूत में घुस आया था। लंड चूत में जाते ही राफिया की चूत में मिर्च लग गई थीं और उसकी चीखें अंजलि से अधिक बाथरूम में गूंज रही थीं। मगर इमरान ने उसकी चीखों की परवाह किए बिना लंड बाहर निकाल कर एक धक्का और मारा और पूरा लंड राफिया की चूत में उतार दिया। 

राफिया इमरान की मिन्नतें करने लगी प्लीज़ इमरान लंड बाहर निकालो मुझे बहुत तकलीफ हो रही है .... इमरान जान खुदा के वास्ते लंड मेरी चूत से निकाल दो ... मुझे नहीं चुदवाना ... आह ह ह प्लीज़ .... मगर इमरान रुकने वाला कहाँ था, उसने राफिया की चीखों और इल्तिजाओ पर कान धरे बिना राफिया की चूत में लंड के धक्के लगाना जारी रखे। राफिया को चुदाई में बिल्कुल भी मज़ा नहीं आ रहा था, रात भर इमरान के जानदार लंड से चुदाई करवा करवा कर उसकी चूत अब ज़्यादा चुदाई सहन नहीं कर रही थी। मगर इमरान को राफिया की टाइट चूत बहुत मज़ा दे रही थी, इसीलिए वह बिना रुके धक्के पर धक्का लगा रहा था

कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद इमरान ने राफिया को अपनी गोद में उठा लिया और उसकी कमर बाथरूम की दीवार के साथ लगा कर उसे फिर से चोदने लगा। अब राफिया ने अपनी टाँगें इमरान की कमर के गिर्द लपेट ली थीं और इमरान के हाथ राफिया के चूतड़ों पर थे और नीचे से उसका 8 इंच का लोड़ा राफिया की सूजी हुई चूत को चोद रहा था। इमरान के होंठ अभी राफिया के होंठों को चूसने में व्यस्त थे ताकि उसकी तकलीफ कुछ कम हो सके और वो भी चुदाई का मज़ा ले सके। राफिया को भी अपनी चूत में अब फिर से थोड़ी चिकनाहट महसूस हो रही थी जिसका मतलब था कि अब उसकी चूत ने लंड के साथ समझौता कर लिया था और उसको पहले की तुलना में आसानी से अंदर बाहर आने जाने की अनुमति दे दी थी। 

लेकिन राफिया की चूत में अब तक मिर्च लगी हुई थीं, जैसे ही लंड राफिया की योनी की दीवारों को चीरता हुआ अंदर जाता तो उसे ऐसे लगता है जैसे किसी ने उसकी योनी में लाल मिर्च डाल दी हो और उसकी वजह से जलन हो रही हो। उसने इमरान को फिर भी कहा कि उसके बहुत जलन हो रही है प्लीज़ लंड बाहर निकाल लो और अंजलि को चोद लो जी भर के, लेकिन जब लंड एक बार किसी की योनी में चला जाए तो वह आसानी से बाहर आने का नाम नहीं लेता। इमरान का लंड भी किसी सूरत मे राफिया योनी से निकलने के लिए तैयार नहीं था

कुछ देर राफिया को गोद में उठाए चोदने के बाद इमरान ने राफिया को नीचे उतार दिया और लंड उसकी योनी से निकाला मगर तुरंत ही उसका मुंह दूसरी तरफ कर राफिया की गाण्ड को अपनी तरफ किया और उसकी कमर पर हाथ रख कर उसको आगे की ओर झुकने के बोला, राफिया न चाहते हुए भी आगे झुकी तो इमरान ने अपना लंड पीछे से राफिया की चूत के छेद पर रखा और एक ही झटके में फिर सारे का सारा लंड राफिया की चूत में उतार दिया। 

अब इमरान ने एक बार फिर राफिया की चूत में तूफानी धक्के लगाने शुरू कर दिए थे। अब की बार इमरान जब राफिया की चूत में लंड अंदर डाल कर धक्का लगाता तो राफिया के 34 आकार के बड़े चूतड़ इमरान के शरीर से टकराते तो धुप्प धुप्प की आवाज पैदा होती। धुप्प धुप्प की आवाज के साथ शावर से पानी भी राफिया की कमर पर गिर रहा था जो बहता हुआ राफिया के चूतड़ों की ओर आ रहा था। इस पानी की वजह से भी धुप्प धुप्प की आवाज बाथरूम में गूंज रही थी। उसके साथ ही इमरान एक हाथ आगे बढ़ाकर राफिया के हिलते हुए मम्मों को पकड़ पकड़ कर दबा रहा था जिससे राफिया की सिसकियाँ निकल रही थीं। अंजलि जो काफी देर से राफिया की चुदाई देख रही थी और फिर अपनी बारी का इंतजार कर रही थी उसने रफिया जी चूत का पानी जल्दी निकालने के लिए राफिया की चूत चाटना शुरू कर दी थी। राफिया की कमर झुकी हुई थी और वह खड़ी थी, अंजलि उसके आगे आकर बैठ गई और अपनी टाँगें फैला कर आगे हो गई और अपनी गर्दन ऊपर उठाकर राफिया की चूत के दाने पर अपनी जीभ फेरने लगी


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

अंजलि की ज़ुबान कभी कभी इमरान के लंड पर भी रगड़ लगाती क्योंकि जहां से अंजलि रफिया की चूत चूस रही थी वहीं इमरान का लंड भी राफिया की योनी की बैंड बजा रहा था। चूत में इमरान का लंड और योनी के दाने पर अंजलि की ज़ुबान के घर्षण ने राफिया की चूत में हलचल मचा दी थी। और बाथरूम मे अभी भी राफिया की आह ह ह ह ह ह ह ह आह ह ह ह ह ह आह ह ह ह ह ह उफ़ एफ एफ एफ एफ एफ एफ, उफ़ एफ एफ एफ एफ एफ एफ एफ एफ आह हुह हु हु हु हु राजा राजा राजा राजा की आवाज से गूंज रहा था, उनकी सिसकियों के साथ धुप्प धुप्प की आवाज भी राफिया के चूतड़ों और इमरान के शरीर के मिलान से बाथरूम में गूंज रही थीं। कुछ ही देर में राफिया की सिसकियाँ तेज हो गईं और अब उसने इमरान को बताया कि वह छूटने वाली है

... अंजलि ने जब यह सुना तो वो तुरंत पीछे हट गई और अपनी चूत में उंगली डालने कर खुद ही उंगली अंदर बाहर करने लगी ताकि इमरान जब राफिया की चूत से लंड निकाले तो उसको अंजलि की चिकनी चूत चोदने के लिए तैयार मिले। कुछ और झटकों के बाद रफिया की चूत ने पानी छोड़ दिया। सारा पानी राफिया की चूत से निकला तो इमरान ने उसकी चूत से लंड बाहर निकाला जो इस समय राफिया के चिकनाहट वाले पानी से भरा था, और वह बिना इंतजार किए अंजलि के पास आया जो बाथरूम की दीवार के साथ खड़ी अपनी चूत में उंगली कर रही थी। जैसे ही इमरान अंजलि के पास आया अंजलि ने अपनी एक टांग उठाकर साइड पर कर ली और इमरान के लंड को चूत का रास्ता दिखाया, इमरान ने अंजलि के पैर को अपने हाथ पर सहारा दिया और बिना इंतजार किए लंड की टोपी को अंजलि की चूत छेद पर रखा और एक ही धक्के में पूरा लंड अंजलि की चूत में उतार दिया। अंजलि की मजे की तीव्रता से एक सिसकारी निकली और उसने आगे बढ़कर इमरान क्र होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उनको चूसने लगी, जबकि नीचे से पिचक पिचक की आवाज के साथ इमरान का लंड अंजलि की चूत की सैर करने में व्यस्त था

अंजलि ने इमरान के होंठ चूसते हुए उसे कहा जान मुझे भी राफिया की तरह अपनी गोद में उठा कर चोदो। यह सुनकर इमरान ने अंजलि के नरम नरम चूतड़ों के नीचे हाथ रखे और उसको एक झटके में अपनी गोद में उठा लिया, अंजलि ने इमरान की गोद में आते ही अपनी टाँगें इमरान की कमर के चारों ओर कूल्हों से कुछ ऊपर लपेट ली और फिर से इमरान के होंठ चूसने लगी, जबकि इमरान ने एक बाजू अंजलि की कमर के चारों ओर लिपटा लिया और दूसरा हाथ अंजलि के चूतड़ों के नीचे रखे उसकी चिकनी योनी में धक्के लगाने में व्यस्त था। इस स्थिति में इमरान के चोदने की गति कुछ धीरे थी और वह पूरी तरह से लंड भी बाहर नहीं निकाल पा रहा था मगर अंजलि को इस स्थिति में चुदवा कर बहुत मज़ा आ रहा था।इमरान के होंठों को चूसते हुए जब उसका लंड अंजलि की चूत की गहराई में चोट लगाता तो वह इमरान के होंठों को छोड़कर एक सिसकी भर्ती और आह ह ह ह ह ह ह ह लंबी आवाज निकालती और फिर से इमरान के होठों से रस पीने लगती

इमरान ने करीब 3, 4 मिनट अंजलि को गोद में उठा कर उसकी चुदाई जारी रखी, तो वह थक गया तो उसने अंजलि को नीचे उतारा और उसे बाथरूम से निकलकर साथ वाले कमरे में जाने को कहा। और खुद राफिया का हाथ पकड़ कर उसे भी अपने साथ बाहर कमरे में ले आया। वहां जाकर इमरान खुद सोफे पर बैठ गया और अंजलि को फिर से अपनी गोद में आने को कहा, अंजलि तुरंत इमरान की गोद में आ गई और अपनी चूत का छेद इमरान के लंड के ऊपर करके एक ही झटके में उसके लंड पर बैठ गई 8 इंच लंबा लंड अंजलि की चूत में गायब हो गया था और अंजलि ने लंड पर उछलना शुरू किया जिससे उसके मम्मे हवा में लहराने लगे जिन्हें इमरान ने अपने मुंह में लेकर हिलने से रोका और निपल्स को चूस चूस कर अंजलि का दूध पीने लगा । इमरान जब अंजलि के निपल्स को जोर से चूसता तो अंजलि को एक अजीब सा आनंद मिलता . कुछ देर इमरान के लंड पर उछलने के बाद अंजलि थक गई तो इमरान ने अंजलि की गांड थोड़ी सी ऊपर उठाई और नीचे से खुद ही अंजलि की चूत में धक्के लगाना शुरू कर दिया

इस दौरान इमरान ने राफिया को भी अपने पास बुला लिया और अंजलि से आगे आकर सोफे पर खड़ी होने को कहा। अब स्थिति कुछ यूं थी कि अंजलि इमरान की गोद में बैठी चुदाई करवा रही थी जबकि राफिया अंजलि और इमरान के बीच में सोफे पर खड़ी थी, राफिया की चूत इमरान मुंह के बिल्कुल सामने थी और इमरान की ज़ुबान रफिया की चूत को चाट चाट कर उसको मज़ा दे रही थी। जबकि इमरान ने अंजलि को तेल वाली शीशी पकड़ा दी थी जिसे वह बाथरूम से निकलता हुआ अपने हाथ में उठा लाया था। अंजलि तेल वाली शीशी देखकर इमरान का मतलब समझ गई थी।इमरान की राफिया गाण्ड मारना चाहता था। अंजलि ने इमरान के लोड़े पर चुदाई करवाते हुए सामने खड़ी राफिया के चूतड़ों को पकड़ कर खोला और उसकी गाण्ड को अपनी जीभ से चाटने लगी। अब नीचे से इमरान का लंड अंजलि की चूत की चुदाई कर रहा था, जबकि ऊपर राफिया की गाण्ड पर अंजलि की ज़ुबान थी जबकि उसकी चूत को इमरान अपनी जीभ से चाटने में व्यस्त था। अंजलि और राफिया दोनों ही मजे की तीव्रता से सिसकियाँ ले लेकर कमरे के वातावरण को गर्म रही थीं

कुछ देर राफिया की गाण्ड चाटने के बाद अंजलि ने तेल वाली शीशी खोली और अपनी उंगली उसकी शीशी में डालकर अपनी उंगली को चिकना कर लिया, और फिर अपनी उस उंगली को राफिया की गाण्ड पर फेरने लगी। जब उंगली का सारा तेल राफिया की गाण्ड के छेद के बाहर लग गया तो अंजलि ने एक बार फिर अपनी उंगलियों पर तेल लगाया और राफिया की गाण्ड में उंगली फेरती रही। अपनी गाण्ड के छेद पर अंजलि की उंगली रेंगती हुई महसूस हुई तो राफिया को और भी मज़ा आने लगा था, लेकिन वह इस बात से अनजान थी अब तक वास्तव में उसकी गाण्ड में इमरान का लोड़ा जाने को बेताब हो रहा है। जब राफिया की गाण्ड अच्छी तरह चिकनी हो गई तो अब अंजलि ने अपनी उंगली का दबाव गाण्ड के छेद पर बढ़ाया और उसकी उंगली का अगला भाग राफिया की गाण्ड में घुस गया। 

गाण्ड में उंगली महसूस कर राफिया की तो जैसे जान ही निकल गई, उसने तुरंत अंजलि को उंगली निकालने का आदेश दिया, लेकिन अंजलि ने राफिया की गाण्ड में अपनी उंगली घुमाना जारी रखा और साथ ही उसके चूतड़ों पर अपने दांतों से प्यार भी करने लगी जिससे राफिया को मज़ा आने लगा था, मगर वह मानसिक रूप से गाण्ड मरवाने के लिए कभी तैयार नहीं थी। कुछ देर राफिया की गाण्ड में उंगली करने के बाद अंजलि ने तेल की शीशी से कुछ तेल राफिया की गाण्ड पर उल्टा दिया और फिर से अपनी उंगली राफिया की गाण्ड में डाल कर उसकी गाण्ड को अंदर से भी रगड़ने लगी। इस बार अंजलि ने पहले से अधिक उंगली राफिया की गाण्ड में घुसा दी थी जिससे राफिया को हल्की हल्की तकलीफ हो रही थी

राफिया ने अंजलि को फिर से उंगली निकालने को कहा मगर अब अंजलि की आधे से अधिक उंगली राफिया की गाण्ड में गोल गोल घूम रही थी, जबकि राफिया को दर्द भी हो रहा था मगर साथ ही आनंद भी मिल रहा था, और सामने से राफिया की चूत पर इमरान की ज़ुबान अपना जादू जगा रही थी जिसकी वजह से राफिया को गाण्ड में अब विशेष परेशानी नहीं हुई थी। 5 मिनट तक अंजलि की राफिया की गाण्ड में उंगली घूमती रही, कभी वह अपनी उंगली से राफिया की गाण्ड की चुदाई करती और उंगली अंदर बाहर करती तेजी के साथ तो कभी गाण्ड के अन्दर ही उंगली को गोल गोल घुमा देती ... राफिया की गाण्ड अब अंदर से काफी चिकनी हो चुकी थी और वह चुदने को तैयार थी, मगर राफिया खुद अब तक यह नहीं समझ पाई थी कि गाण्ड में अंजलि का उंगली डालने का उद्देश्य राफिया को मज़ा देना नहीं बल्कि राफिया की गाण्ड को इमरान के लोड़े के लिए तैयार करना था। उसका विचार था कि इमरान अभी अंजलि को ही चोदेगा क्योंकि उसकी चूत इसके लायक नहीं थी कि उसको अधिक 3, 4 दिन चोदा जा सके।

इस दौरान अंजलि की चूत भी इमरान के लंड के धक्कों से अब पानी छोड़ने के करीब थी। उसकी सिसकियों में पहले की तुलना में काफी तेजी आ चुकी थी और उसने राफिया की गाण्ड में उंगली करने के साथ साथ अब इमरान को अपने धक्कों की गति बढ़ाने का कह दिया था ताकि वह अपनी चूत का सारा पानी निकाल सके। इमरान ने अंजलि की हालत देखते हुए अपने धक्कों को खतरनाक हद तक बढ़ा दिया था जिससे अंजलि की सिसकियां बढ़ गई थीं और कमरे आह ह ह ह ह ह ओह हु हु हु हु हु हु,,,, उफ़ एफ एफ एफ एफ आह ह ह ह ह,,,, आह ह ह ह ह,,,,, आह ह ह ह ह ह ह ह .... जोर से चोदो इमरान, और जोर से ... आह ह ह ह ह ह ह .... उफ़ एफ एफ एफ एफ क ....... उम म म म म ... बहुत मज़ा आ रहा है जानेमन तुम्हारे लंड .से... मेरी चूत का सारा पानी निकाल दो आज ..... आह ह ह ह ह ह ह की आवाजों से गूंज रहा था

इमरान के लंड ने कुछ और धक्के अंजलि की चूत में लगाए और फिर अंजलि की चूत की दीवारें आपस में मिलने लगीं और इमरान के लंड को मज़बूती से पकड़ने लगी। इमरान को अपना लंड अंजलि की चूत में फंसा हुआ महसूस हुआ मगर उसने धक्कों की गति में कमी नहीं की और अपनी पूरी ताकत से अंजलि की चूत में धक्के लगाना जारी रखे। कुछ और झटकों के बाद अंजलि की चूत ने इमरान के लंड पर गर्म गर्म पानी छोड़ दिया जिससे इमरान का सारा लंड अंजलि की चूत के चिकने पानी से भर चुका था। इमरान ने अंतिम झटके धीरे धीरे लगाए और जब अंजलि का सारा पानी निकल गया तो वह इमरान की गोद से उतर गई और इमरान के साथ ही सोफे पर बैठ कर गहरी गहरी सांस लेने लगी।जबकि इमरान का लंड अब तक वैसे का वैसा ही खड़ा था और किसी अगली चूत या गान्ड के इंतजार में था जिसमें घुसकर वे उसको भी चोद सके


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

अगली बारी जाहिर सी बात है फिर से राफिया की थी, लेकिन इस बार लंड उसकी चूत की बजाय उसकी गाण्ड में जाना था। अंजलि अब सोफे पर अपनी टाँगें खोल कर लेट गई थी और राफिया को अपनी चूत चाटने के लिए आमंत्रित किया था। राफिया सोफे पर घोड़ी बन कर अंजलि की चूत के ऊपर झुक गई थी और उसकी चूत पर जीभ फेरकर मजे मजे से उसकी चूत का पानी चाट रही थी। जबकि इमरान अभी राफिया के पीछे अपना लंड हाथ में पकड़े राफिया की गाण्ड मारने के लिए तैयार खड़ा था, जबकि राफिया का मानना था कि लंड उसकी चूत में जाएगा। हालाँकि वह अब चुदवाना नहीं चाहती थी मगर वह जानती थी कि इमरान बाज आने वाला नहीं वह उसकी चूत की जान नहीं छोड़ेगा इसलिए वह चुपचाप अंजलि की चूत चाटने में व्यस्त थी और इंतजार कर रही थी कि कब इमरान अपने लंड की टोपी उसकी चूत के छेद पर रख कर एक धक्का मारेगा और अपना पूरा लंड उसकी चूत की गहराई में उतार कर उसकी सूजी हुई चूत को और सूजा देगा . मगर इमरान ने अपने हाथ से राफिया के चूतड़ों पर कुछ थप्पड़ मारे और फिर उसकी गाण्ड के छेद पर उंगली रखकर दबाव डाला तो इमरान की उंगली का कुछ हिस्सा राफिया की गाण्ड में चला गया।

राफिया थोड़ी सी कसमसाई और बोली- हां गांड में उंगली डालो और चूत में लंड डाल दो। बहुत मज़ा आएगा ऐसी चुदाई का। मगर इमरान के इरादे कुछ और थे।दूसरे हाथ से वह तेल की शीशी अपने लोड़े पर उंडेल चुका था और अपनी टोपी को अच्छी तरह तेल लगाकर चिकना कर चुका था। जबकि अपनी उंगली को वह आधी से अधिक राफिया की गाण्ड में उतार चुका था। कुछ देर राफिया की गाण्ड में उंगली करने के बाद जब इमरान को विश्वास हो गया कि अब यह गाण्ड चोदने लायक है तो उसने अपनी उंगली राफिया की गाण्ड से निकाल ली और राफिया के पीछे एक घुटना सोफे पर लगाकर जबकि दूसरे पैर को जमीन पर रखकर बैठ गया और अपना लोड़ा राफिया की गाण्ड के ठीक पीछे ले गया

फिर इमरान ने राफिया के चूतड़ों को अपने हाथों से पकड़ कर खोला और उसकी गाण्ड के छेद पर अपना थूक फेंक कर फिर उसे उंगली से गाण्ड के छेद पर मसल दिया। फिर इमरान ने अपना लंड अपने सीधे हाथ में पकड़ा और उसकी टोपी गाण्ड के छेद के ऐन बीच में रखकर एक जोरदार धक्का लगाया, राफिया पर जैसे पहाड़ टूट पड़ा हो उसके भ्रम व गुमान में भी नही था कि इमरान अपना लंड उसकी गाण्ड में डाल देगा, राफिया ने तुरंत इमरान को हटाने की कोशिश की और एक चीख मारी मगर इमरान के लंड की टोपी राफिया की गाण्ड के छेद में फंस चुकी थी और उसको निकालना अब इतना आसान नहीं था, पहले तो उसने आगे होने की कोशिश परन्तु इमरान ने उसको चूतड़ों से पकड़ रखा था जिसकी वजह से वह आगे होकर इमरान के लंड को अपनी गाण्ड से निकालने में विफल हो गई, फिर उसने पीछे मुड़ना चाहा ताकि इमरान के लंड को अपनी गाण्ड से निकाल सके और सीधी हो सके, लेकिन जैसे ही उसने अपनी गर्दन को ऊपर उठाना चाहा तो अंजलि के पैर की पकड़ ने उसे ऐसा नही करने दिया, अंजलि अपनी टाँगें गोल घुमा कर राफिया की गर्दन में डाल चुकी थी और राफिया के लिए अब किसी भी तरह इमरान के लंड से अपनी गाण्ड को बचाना संभव नहीं रहा था


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

राफिया की आंखों में तकलीफ की तीव्रता से आंसू भी थे और उसने रोते हुए इमरान से कहा इमरान प्लीज़ अपना लंड निकाल दो मेरी गाण्ड से, चूत को चाहो तो रात तक चोदते रहो मगर प्लीज़ गाण्ड से निकाल लो बहुत तकलीफ होती है। मगर इमरान ने उसको प्यार से दिलासा दिया कि हॉंसला रखो मेरी जान, अभी दुख दूर हो जाएगा और फिर तुम्हें गाण्ड मरवाने का भी मज़ा आएगा। मगर राफिया लगातार रो रही थी कभी कहती कि मेरी चूत मार लो गांड छोड़ दो तो कभी कहती अंजलि की चूत और गाण्ड से अपने लंड की प्यास बुझा लो मगर मेरी गाण्ड से लंड निकाल लो।मगर इमरान ने लंड वापस निकालने के लिए तो डाला ही नहीं था, उसके सिर पर तो राफिया की गाण्ड मारने का भूत सवार था। अंतिम बार उसने मेजर मिनी की गाण्ड मारी थी और इस बात को काफी समय बीत चुका था। तब से उसके लंड ने गाण्ड का मजा नहीं लिया था, और आज एक कुंवारी गाण्ड में उसका लंड जा रहा था तो वह भला कैसे कुंवारी गांड छोड़ सकता था

इमरान प्यार से राफिया को दिलासा देता रहा और इस दौरान उसने एक और झटका मार दिया था जिससे लंड गाण्ड के अंदर एक इंच और खिसक गया था। मगर राफिया की गाण्ड बहुत टाइट थी, इतना तेल लगाने के बावजूद वह लंड को अपने अंदर आने की अनुमति नहीं दे रही थी। इमरान ने लंड थोड़ा बाहर निकाला मगर टोपी को अंदर ही रहने दिया और एक जोरदार झटका मारा तो आधा लंड राफिया की गाण्ड में उतर चुका था और राफिया की आँखों से आँसू गिरते जा रहे थे और उसके पैर दर्द की तीव्रता से काँप रहे थे । अंजलि ने अब उसकी गर्दन से अपनी टांगों का घेरा समाप्त कर दिया था क्योंकि वह जानती थी कि अब राफिया किसी भी तरह इमरान के लंड को अपनी गाण्ड से नहीं निकाल सकती, राफिया को कुछ आराम पहुंचाने के लिए अंजलि अब इस तरह लेट गई कि उसका सिर राफिया की चूत के ठीक नीचे आ गया और उसकी चूत राफिया के सिर के करीब आ गई, और इस स्थिति में उसको इमरान का लंड और आँड भी दिखने लगे जो गाण्ड से बाहर थे। अंजलि ने अपनी गर्दन ऊपर उठाई और अपनी ज़ुबान राफिया की चूत में डाल कर उसमें फेरने लगी, अब राफिया दर्द और मजे की मिलीजुली स्थिति में थी। 

चूत पर अंजलि की ज़ुबान उसे मजा दे रही थी मगर गाण्ड में इमरान का मोटा लंड उसे दर्द दे रहा था। मगर दर्द की तीव्रता अभी मजे की तुलना में बहुत अधिक थी। और वो लगातार चीख भी रही थी इमरान की मिन्नतें कर रही थी कि मेरी गाण्ड से लंड निकाल लो, मगर इमरान उसकी पीठ पर हाथ फेर कर उसे तसल्ली दे रहा था और अमूर्त रूप से उसकी गाण्ड में लंड थोड़ा थोड़ा हिला रहा था। 5 मिनट तक राफिया आंसू बहाती रही और इमरान धीरे धीरे उसकी गाण्ड में लंड अंदर बाहर करता रहा, जैसे जैसे समय बीत रहा था इमरान कुछ तेजी के साथ लंड अंदर बाहर करने लगा था, लेकिन अब भी उसकी गति काफी धीमी थी वह कोशिश कर रहा था कि राफिया की गाण्ड उसके लंड की आदी होजाय तो वह जमकर उसकी गाण्ड की चुदाई करेगा। अब राफिया ने तो आंसू बहाना बंद कर दिए थे मगर अंजलि की ज़ुबान जो राफिया की चूत में थी उसकी वजह से राफिया की चूत ने अपने आंसू बहाना जारी कर दिए थे। उसकी चूत चिकनी हो चुकी थी और वह अब चीख़ें मारने के बजाय हल्की हल्की सिसकियाँ ले रही थी

राफिया की सिसकियाँ सुनकर इमरान को कुछ हौसला हुआ और उसने भी अब पहले की तुलना में थोड़ा तेजी के साथ अपना लंड राफिया की गाण्ड में अंदर बाहर करना शुरू किया। इमरान ने अपनी गति में वृद्धि की तो फिर राफिया की सिसकियाँ चीखों में बदल गई मगर इस बार चीखों की आवाज पहले की तुलना में धीमी थी, जिससे पता लग रहा था कि अभी राफिया तकलीफ का सामना कर रही है। इमरान 5 मिनट तक उसी गति के साथ राफिया को चोदता रहा, 5 मिनट बाद जब फिर से राफिया की सिसकियाँ निकलने लगी और उसको अपनी गाण्ड में इमरान के लंड का मज़ा आने लगा तो इमरान ने एक बार फिर अपने लंड की गति बढ़ा दी और अबकी बार तेजी के साथ अपना लंड राफिया की गाण्ड के अंदर बाहर करने लगा। इमरान का करीब 5 से 6 इंच लंड राफिया गाण्ड में जाकर गायब हो जा ता था उसके बाद इमरान 4 इंच लंड बाहर निकालता महज टोपी अंदर रहने देता और फिर से धक्का लगाता और अपना लंड राफिया की गाण्ड के छेद में गायब कर देता . अब राफिया की सिसकियां बढ़ रही थी जिससे पता लग रहा था कि वह इस समय फुल मजे में है, यह देखकर अंजलि राफिया के नीचे से निकल आई जो काफी देर से उसकी चूत को चाट रही थी। राफिया की चूत चाट चाट कर अंजलि थक चुकी थी

राफिया के नीचे से निकलने के बाद अंजलि राफिया की कमर के ऊपर आकर खड़ी हो गई और अपने दोनों पैर उसकी कमर के दाईं और बाईं ओर करके अपनी चूत को इमरान के आगे कर दिया। इमरान जो इस समय फुल मजे में था और राफिया की टाइट गाण्ड को चोदने में व्यस्त था अपने सामने अंजलि की चिकनी चूत देख कर तुरंत जीभ बाहर निकाल कर उसको चाटने लगा। अंजलि ने अपने हाथ से इमरान का सिर पकड़ कर चूत के ऊपर दबा दिया। इमरान भी अंजलि की चूत को ऐसे चाट रहा था जैसे उसने कभी जीवन में चूत देखी ही न हो। वह अंजलि को फुल मज़ा दे रहा था और अंजलि की सिसकियाँ इमरान के लंड को ज़्यादा तेजी से बढ़ने को कह रही थीं। नीचे से रफिया की हर धक्के के साथ सिसकियाँ ओह ... ओह .... ओह .... ओह ... आह ह ह ह ... ओह .... जबकि ऊपर चूत चटवा कर अंजलि की सिसकियाँ आह ह ह ह आह ह ह ह ह ह उफ़ एफ एफ एफ एफ एफ ..... हाईईईईई एफ एफ एफ एफ ... आह ह ह ह ह ह ... आह ह ह ह .... उम म म म म ..... आह ह ह ह ह .... यस बेबी .... चाटो उसको, जोर से चाटो .... आह ह ह ह ह ह .... आह ह ह ह खा जाता मेरी चूत को। .. आ हु हु हु हु हु .... यस बेबी, कम ऑन, फक माई एस्स ..... आह ह ह ह ह .... ये सिसकियाँ इमरान को पागल कर रही थीं। जीवन में पहली बार वह 2 लड़कियों को एक साथ चोद रहा था और ऊपर से उन दोनों की सिसकियाँ इमरान के कानों में रस घोल रही थीं

कुछ देर के बाद राफिया ने इमरान को कहा जानू में थक गई हूँ इस स्थिति में, प्लीज़ अब स्थिति चेंज करके चोदो मुझे। इमरान ने राफिया की बात सुन कर उसकी गाण्ड से लंड निकाल लिया, क्योंकि वह जानता था कि अब राफिया को गाण्ड मरवाने का मज़ा आ रहा है वो फिर से लंड लेने से मना नहीं करेगी। इमरान ने राफिया की गाण्ड से लंड निकाला तो राफिया ने इमरान से कहा चलो अंदर बेडरूम में चलते हैं। यह कह कर राफिया इमरान की गोद में खुद ही चढ़ गई और अंजलि इमरान के लंड को पकड़ कर उसको वहीं पर चूसने बैठ गई। इमरान के लंड से राफिया की गाण्ड की बदबू आ रही थी मगर इस समय सेक्स में जल रही अंजलि को यह बदबू बहुत प्यारी महक लग रही थी और वह इमरान के चिकने लंड को शड़प शड़प की आवाज के साथ चूसती रही। जब इमरान के लंड की सारी सामग्री अंजलि चूस चुकी तो वह इमरान के लंड को पकड़कर उसको बेड रूम की तरफ खींचने लगी और इमरान राफिया को गोद में उठाए उसके होठों को चूसता हुआ बेड रूम में चला गया

बेड के पास जाकर इमरान ने राफिया को अपनी गोद से उतारा और खुद बेड पर लेट कर राफिया को अपने ऊपर आने को कहा। राफिया तुरंत अपनी टाँगें इमरान दाएँ बाएं रखकर उसके लंड के ऊपर आ गई और अपनी चूत का छेद इमरान के लंड की टोपी पर रखने लगी तो इमरान ने उसे मना किया और बोला न बेबी न ..... जिस छेद में पहले था लंड अभी भी इसी छेद में जाएगा ...वरना बवाल हो जाएगा 

( दोस्तो माफ़ करना बीच में रोक रहा हूँ पर मुझे एक बात याद आ गई तो सोचा आपको बताता चलूं - एक जाट भाई का अपने पड़ोसी से अपने खेत मे पानी ले जाने के लिए झगड़ा हो गया पड़ोसी ने अपने खेत से पानी ले जाने से मना कर दिया पंचायत बुलाई गई तो पँचो ने फ़ैसला किया भाई चौधरी अगर तुम्हारा पड़ोसी अपने खेत से पानी नही निकालने दे रहा तो तुम दूसरी तरफ से पानी निकल कर ले जाओ तो जाट भाई ने जवाब दिया कि ठीक पँचो बात सिर माथे पर लेकिन पानी तो यही होकर जाएगा वरना बवाल हो जाएगा )

यह सुनकर राफिया मुस्कुराई और बोली वहीं डाल लो तुम, यह कह कर उसने लंड की टोपी को अपनी गाण्ड के छेद पर रखा और हल्का सा वजन इमरान के ऊपर डाला, लंड फंस फंसकर गाण्ड के छेद में चला गया, लेकिन अभी केवल टोपी अंदर गई थी, और राफिया की सिसकियाँ शुरू हो गईं थीं। वह धीरे धीरे अपना वजन इमरान के लंड पर डाल रही थी जिससे इमरान का लंड थोड़ा थोड़ा राफिया की गाण्ड में जा रहा था। जब लंड ज़्यादा भाग राफिया की गाण्ड में गया तो उसने धीरे से उठकर लंड वापस बाहर निकाला मगर टोपी को गाण्ड के अंदर ही रहने दिया। और फिर से अपना वजन इमरान के लंड के ऊपर डाला, इस बार लंड काफी तेजी से राफिया की गाण्ड में गया, फिर राफिया ने अपने घुटने बेड के साथ लगा लिए और अपने दोनों हाथ इमरान के सीने से लगा कर अपनी गाण्ड मरानी शुरू कर दी । राफिया अब थोड़ा तेजी के साथ इमरान के लंड के ऊपर उछल रही थी और खुद ही अपनी गाण्ड की चुदाई करवा रही थी। लंड के ऊपर उछलते हुए राफिया ओह हु हु हु ..... ओह हु हु हु ..... आह ह ह ह ह ह ..... आह ह ह ह ह ... की सिसकियाँ निकल रही थी जबकि समीरा एक साइड पर लेटी खुद ही अपनी चूत में उंगली कर रही थी

कुछ देर तक राफिया खुद इमरान के लंड पर उछल उछल कर अपनी गाण्ड मरावाती रही, फिर जब राफिया थक गई तो इमरान ने राफिया को अपनी गाण्ड ऊपर उठाने को कहा, राफिया ने इमरान के कहने के अनुसार अपनी गाण्ड इतनी ऊपर उठा ली कि महज इमरान के लंड की टोपी ही गाण्ड मे रही। फिर इमरान ने नीचे से अपनी मशीन चलाना शुरू किया और काफी तेजी के साथ राफिया की टाइट गाण्ड में अपने लंड से खुदाई शुरू की। अब की बार राफिया की सिसकियाँ काफी तेज थी और इमरान के चोदने की गति भी तूफानी थी। कुछ देर तक इसी तरह गाण्ड उठा कर चुदवाने के बाद राफिया इमरान के ऊपर झुक गई तो इमरान ने गर्दन ऊपर उठा कर उसके मम्मे अपने मुँह में ले लिए और अपनी गाण्ड थोड़ी सी ऊपर उठाकर राफिया की गाण्ड चोदने की गति को और बढ़ा दिया । राफिया इमरान के ऊपर झुकी हुई अपनी गाण्ड में लगने वाली मिर्चों का मज़ा ले रही थी और उसकी चूत अब पानी छोड़ने के पास ही थी, राफिया के निपल्स इमरान के मुंह में थे जिन्हें चूस चूस कर वो लाल कर चुका था

राफिया लगातार फक मी बेबी, फक मी हार्ड, हां .... यस ..... आह ह ह ह .... यस बेबी, फक मी हार्ड ..... यस यस .... आह आह आह ाोनाह ..... ाोनाह ..... आह ह ह ह ह ह ह ह की आवाजें निकाल रही थी। फिर राफिया ने इमरान को कहा फक मी हारडर बेबी, आईएम कमिंग .....आह ... बी फक मी .... हार्ड ..... हारडर .... आईएम कमिंग । । । ये बेबी ये ...... आह ह ह ह ... और इसके साथ ही राफिया की चूत ने पानी छोड़ दिया। राफिया की चूत ने तो पानी छोड़ दिया मगर इमरान का लंड फुल स्पीड से राफिया की गाण्ड में धक्के मार रहा था वह रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था। जब पूरी गति के साथ राफिया की गाण्ड में धक्के मार मार कर इमरान की कमर थक गई तो उसने कुछ देर रुकने का इरादा किया। जैसे ही इमरान ने राफिया की गाण्ड में लंड अंदर बाहर करना रोका, राफिया तुरंत ही उसके लंड से उठ गई और इमरान का लंड जो अब तक 8 इंच लंबा और पूरा तना हुआ था ऊपर की तरफ मुंह करके लहराने लगा


RE: Porn Hindi Kahani वतन तेरे हम लाडले - sexstories - 01-10-2019

इमरान भी समझ गया था कि कल रात राफिया की चूत बैंड बजी थी और आज उसकी गाण्ड का बैंड बजा चुका है वह तो अब उसको और चोदना उसके साथ दुर्व्यवहार होगा इमरान ने कुछ देर अपनी कमर सीधी की, इस दौरान अंजलि इमरान के लंड को हवा में लहराता देख कर उसके पास आ गई थी और लंड मुंह में लेकर उसकी चुसाइ लगा रही थी, जबकि राफिया बेड से उतर कर साथ पड़ी कुर्सी पर बैठकर गहरी गहरी सांस ले रही थी, उसको डर था कहीं इमरान दोबारा ना उसको पकड़ ले इसलिए वह उससे दूर होकर बैठ गई थी। 

कुछ देर इमरान के लंड की चुसाइ लगाने के बाद अंजलि बेड पर ही डॉगी स्टाइल में बैठ गई और इमरान को कहा कि चलो अब मुझे भी उसी गति से चोदो जिस गति से राफिया को चोदा है ... इमरान का लंड जो पहले ही चूत या गान्ड के इंतजार में था, अंजलि को कुतिया बना देखकर उसने भी इमरान को कहा चल उठ, मर्द बन और चोद दे इस लड़की को भी। इमरान ने अपने लंड की आवाज सुनी और तुरंत ही घुटनों के बल अंजलि के पीछे जा कर बैठ गया, उसने अपने हाथों की 2 उंगलियों से अंजलि की चूत गर्मी को मापा, जो इस समय चुदने के लिए पूरी तरह तैयार थी। अपनी उंगलियों पर अंजलि की चूत का चिकना पानी देखकर इमरान ने अपने लंड की टोपी को अंजलि की चूत के छेद पर रखा और एक ही धक्के में अपना 8 इंच लंड अंजलि की नाजुक चूत में गायब कर दिया

जैसे ही इमरान का लंड अंजलि की चूत में उतरा, अंजलि ने एक जोरदार सेक्सी सिसकी ली और साथ ही इमरान को जोरदार चुदाई करने के लिए उकसाना शुरू कर दिया। राफिया की तरह अब अंजलि भी फक मी बेबी, फक मी हारडर ... फक मी लाईक ऐ बिच ..... आह ह ह ह ह ह ह ..... फक मी, फक माई पआभ बेबी .... आह ह ह ह ह ..... आह ह ह ह ह .... की आवाज निकाल रही थी। इमरान पूरी गति के साथ अंजलि की चूत में अपना लंड अंदर बाहर कर रहा था और अंजलि के 32 आकार के गोल गोल चूतड़ इमरान के शरीर से टकरा कर धुप्प धुप्प की तेज आवाज पैदा कर रहे थे। अंजलि अब फुल मस्ती मे थी, इमरान के लंड का अधिकतम मज़ा लेने के लिए उसने अपनी चूत टाइट की हुई थी, जैसे ही इमरान का लंड अंदर धक्का लगाने लगता अंजलि अपनी चूत की दीवारों को आपस में मिला कर अपनी चूत को टाइट कर लेती, ऐसे मे लंड अंजलि की चूत की दीवारों को जोरदार ढंग से रगड़ता हुआ अंजलि की चूत की गहराई तक जाता और जब इमरान ने लंड बाहर निकालना होता तो अंजलि अपनी चूत को ढीला छोड़ देती, और फिर अगले धक्के के लिए चूत को टाइट कर लेती

अंजलि की इस तरह की हरकत से इमरान के लंड को भी बहुत मज़ा आ रहा था और वो बार बार अंजलि के गोरे गोरे चूतड़ों पर थप्पड़ मार मार कर उन पर अपने हाथों के निशान बना चुका था। 5 मिनट तक इमरान बना रुके डॉगी स्टाइल में अंजलि की चूत मारता रहा। फिर इमरान ने अंजलि की चूत से लंड निकाला और उसे लेटने को कहा तो अंजलि तुरंत ही बेड पर लेट गई। इमरान ने अंजलि की एक टांग उठाकर अपने कन्धे पर रखी और दूसरे पैर की ओर फैला कर चूत तक का रास्ता बनाया, तो फिर से इमरान ने अंजलि की चूत में अपना लंड अंदर किया और धक्के में धक्का लगाना शुरू किया। इमरान का लंड अंजलि की तंग सी चूत में धक्के लगा रहा था जबकि उसके होंठ अंजलि की जीब को चूसने में व्यस्त थे। अंजलि अपने हाथों से अपने बूब्स को दबा रही थी, कभी वह अपनी उंगली और अंगूठे की मदद से अपने निपल्स पकड़ कर उनको मसलने लगती। वह इस समय फुल मजे में थी और उसकी चूत इमरान के लंड को अच्छा रिस्पांस दे रही थी

कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद एक बार फिर इमरान ने अंजलि की चूत से अपना लंड निकाला और उसको उठकर बैठने को बोला। अंजलि उठी तो इमरान भी अपनी टाँगें पीछे की ओर फ़ोल्ड करके बैठ गया मगर अपने पैर के पंजे बेड के साथ लगाए और अंजलि को अपनी गोद में आने को कहा। अंजलि बेड से उठी और राज की गोद में उसकी थाईज़ के ऊपर बैठ गई, इमरान का लंड अपना मुंह अंजलि की चूत की ओर ही किए हुए था, जैसे ही अंजलि इमरान की गोद में बैठी इमरान का लंड ठीक निशाने पर उसकी चूत से टकराया और अंजलि की चूत की चिकनी दीवारों से रगड़ खाता हुआ उसकी चूत में प्रवेश हो गया। अंजलि के पैर इमरान के आसपास लिपटे हुए थे और उसकी बाहें इमरान की गर्दन के आसपास थीं, इमरान पंजों के सहारे थोड़ा ऊपर उठकर अंजलि की चूत में तूफानी गति से धक्के लगा रहा था और गर्दन नीचे झुकाकर अंजलि की छोटे मगर तने हुए ब्राउन निपल्स को अपनी जीभ से रगड़ रहा था। अंजलि ने अपनी चूत फुल टाइट कर ली थी और वह चुदाई का ये राउंड खूब एंजाय कर रही थी

इमरान ने अंजलि को उसके चूतड़ों से कुछ ऊपर से दोनों हाथों से पकड़ रखा था और थोड़ा अपनी ओर खींच कर उसकी हल्के पतले बालों वाली चूत में दनादन धक्के मार रहा था। इमरान को अब लग रहा था कि उसका लंड आज बहुत चुदाई कर चुका है, और अब पानी छोड़ने वाला है। इमरान ने अंजलि के निपल्स से मुँह हटा कर अंजलि से पूछा कि वह छूटने वाला है अंदर ही छूट जाए या बाहर निकाले पानी ?? अंजलि जो इस समय अपनी योनी में लंड लेकर मस्त हो रही थी बोली कि अंदर ही निकाल दो, बस लंड बाहर नहीं निकालना जब तक छूट ना जाए

यह सुनकर इमरान ने अपने धक्कों की गति और तेज़ कर दी और अंजलि को भी अब अपनी चूत में सुई की सी चुभन महसूस हो रही थी। फिर कुछ ही धक्कों ने अंजलि की चूत को हार मानने पर मजबूर कर दिया और गरम लावा अंजलि की चूत से निकला और इमरान के लंड को भिगोता हुआ इमरान के पैर भी गीला कर गया। अंजलि के शरीर ने कुछ झटके खाए और सारा पानी बाहर निकाल दिया। अंजलि की चूत को अब आराम मिल चुका था, मगर इमरान का लंड अभी तक कठोर था और उसके चोदने की गति में अब खतरनाक हद तक बढ़ चुकी थी फिर अचानक राज ने अंजलि को बेड पर धक्का दिया और उसको लिटा कर खुद भी अंजलि के ऊपर लेट गया, यह काम उसने इतने कौशल और तेजी से किया कि न तो अपना लंड योनी से बाहर निकलने दिया और न ही अपने धक्कों को रोका, अंजलि के नीचे लेटते ही इमरान उसके ऊपर लेट गया और अपने चूतड़ों को हिलाकर अंजलि की चुदाई जारी रखी

फिर इमरान को अपना लंड फूलता हुआ महसूस होने लगा जैसे उसमे कोई पानी भर रहा हो, और धीरे धीरे इमरान को अपने लंड की टोपी के छेद पर दबाव महसूस हुआ, और फिर एक झटके से वह दबाव खत्म हो गया जब इमरान के लंड ने एक धारदार वीर्य की पिचकारी अंजलि की चूत में ही छोड़ दी, और फिर इमरान के लंड ने 3, 4 जोरदार पिचकारियाँ मारी, हर पिचकारी में इमरान के लंड से ढेर सारा वीर्य निकलकर अंजलि की चूत में जमा होता रहा इमरान का शरीर कुछ देर तक हल्के हक्के झटके लेता रहा जब तक कि सारी वीर्य इमरान के लंड से अंजलि की योनी में प्रवेश ना कर गया। और फिर इमरान अंजलि ऊपर बेजान सा होकर ढह गया और अंजलि भी अब गहरी गहरी सांस लेकर शानदार चुदाई की थकान दूर कर रही थी

राफिया ने जब देखा कि दोनों फारिग हो चुके हैं तो वह भी बेड पर आ गई और इमरान के साथ जुड़ कर लेट गई और उसे अंजलि के शरीर से अलग करके अपने साथ चिपका कर प्यार करने लगी। वह बहुत खुश थी कि उसका प्रेमी इतने शानदार लंड का मालिक है जो 2 जवान चूतों और एक कुंवारी गाण्ड को चोद चोद कर बुरा हश्र कर दिया था, और यदि उसके लंड के साथ थोड़ी छेड़छाड़ की जाती तो वो फिर से चिंघाड़ता हुआ खड़ा होकर फिर से चूतों को चोदने के लिए तैयार हो जाता। मगर रफिया जानती थी कि अब इमरान के लंड से छेड़छाड़ नहीं करनी क्योंकि अगर उसका लंड खड़ा हो गया तो अब राफिया की गाण्ड और चूत की खैर नहीं होगी। इसलिए वह बस इमरान के साथ लेटी उसकी कमर पर हाथ फेर कर उसको प्यार करती रही और इस शानदार चुदाई की उसे दाद देती रही

अंजलि भी अभी गहरे सांस ले रही थी कि दूसरे कमरे में मोबाइल की बेल बजी। ये अंजलि का मोबाइल था। अंजलि ऐसे ही नंगी हालत में दूसरे कमरे में चली गई और कुछ देर के बाद जब फोन सुनकर वह वापस कमरे में आई तो उसके चेहरे पर हवाइयां उड़ रही थीं। उसने काँपती हुई आवाज़ में इमरान को आवाज़ दी और ये बात सुनने को कहा। इमरान ने अंजलि की तरफ देखा तो उसको परेशान देखकर इमरान समझ गया कि कोई समस्या है। उसने राफिया को वहीं कमरे में रुकने का बोला और अंजलि की बात सुनने बाहर चला गया। अंजलि ने इमरान को अपने आने वाले फोन के बारे में बताया तो इमरान भी परेशान हो गया। राफिया को जिज्ञासा हुई कि आखिर ऐसी क्या बात है जो दोनों दूसरे कमरे में खड़े बात कर रहे हैं, जबकि यह दोनों एक दूसरे जानते ही नहीं फिर ऐसी क्या निजी बात जो अकेले में हो रही है। वह उठ कर उनकी बातें सुनना चाहती थी मगर उसकी चूत और गाण्ड इस बात की अनुमति नहीं दे रही थी। वह थकी हारी बेड पर ही लेटी रही।


This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


www.sexbaba.net/thread-ಹುಡುಗ-ಗಂಡಸಾದ-ಕಥೆdedhi bhabhi moti chuate imageचुतदsalwar ka nada kholte hue boli jaldi se dekhlepriyanka Chopra nude sex babaसेक्स बाबा लंबी चुदायी कहानीkissi heroin ka bur lund vagain chodati haivelamma episode 91 read onlineआ आ दुखली गांडghara madhali chudai sexi storiesChut me land guste hi bahut rone lgi girl hard fuk vedioindian sex stories forum मुत पीलाने की कहानियांsex ladki ne land ko sharab me duba ki piya videoसोने में चाची की चुत चाटीसुबह सुबह चुदाई चचेरी15.sal.ki.laDki.15.sal.ka.ladka.seksi.video.hinathirakhi sexbaba pic.comshirf asi chudaiya jisme biviyo ki chut suj gaiKapada padkar chodna cartoon xxx videoKaku la zavale anatarvasana marthiझवलो सुनेलामाँ ने मुझे जिगोलो बनायाpunjbi saxy khaineaसमीरा मलिक साथ पड़े सोफे पर पैर पर पैर रखकर बैठी तो उसकी मोटी मोटी मांस से भरी जांघें मेरे लोड़े को खड़ा होने पर मजबूर करने लगीं। थोड़ी थोड़ी देर बाद उसकी सेक्सी जांघ को देखकर अपनी आँखों को ठंडा किया जब दुकान मे मौजूदा ग्राहक चली गईं तो इससे पहले कि कोई और ग्राहक दुकान में आता मैंने दुकान का दरवाजा लॉक कर दिया वैसे भी 2 बजने में महज 15 मिनट ही बाकी थे। दरवाजा बंद करने के बाद मैंने समीरा मलिक का हाल चाल पूछा और पानी भी पूछा मगर उसने कहा कि नहीं बस तुम मुझे ड्रेस दिखाओ जिसे कि मैं पहन कर देख सकूँ। मैं उसका ड्रेस उठाकर समीरा मलिक को दिया और उसे कहा कि ट्राई रूम में जाकर तुम पहन कर देख लो। समीरा मलिक ने वहीं बैठे बैठे अपना दुपट्टा उतार कर सोफे पर रख दिया। दुपट्टे का उतरना था कि मेरी नज़रें सीधी समीरा मलिक के सीने पर पड़ी जहां उसकी गहरी क्लीवेज़ बहुत ही सेक्सी दृश्य पेश कर रहीपपी चुस चुमा लिया सेसी विडीयोlamb kes pahun land sex marathi storyEnglish girl bakabu xxnxmaa incekt comic sexkahaani .comschool girl ldies kachi baniyan.comsex baba kajal agarwal sex babasasur har haal main apne bahu ko ragadne ko betabजेठजी का मोटा लण्ड़ हिला के खडा कियाmypamm.ru maa betachudai ki latest long kahani thread in hindi choti gandwali ladki mota land s kitna maja leti hogiBf heendee chudai MHA aiyasee aaurtगांड़ मार कर रुलाया//mypamm.ru/Thread-sex-kahani-%E0%A4%9A%E0%A5%81%E0%A4%A6%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%A8%E0%A5%8C%E0%A4%95%E0%A4%B0burmari didisex baba net photoxxx hindi jabrdasti roopdi dard se hindisart jeetne ke baad madam or maa ki gand mari kamukta sexi kahaniyapryia prakash varrier nudexxx imagesपर उसका अधखिला बदन…आह अनोखा था। एक दम साफ़ गोरा बदन, छाती पर ऊभार ले रही गोलाईयाँ, जो अभी नींबू से कुछ हीं बड़ी हुई होगी जिसमें से ज्यादा तर हिस्सा भूरा-गुलाबी था Holi mein Choli Khuli Hindi sex StoriesMaa ko seduce kiya dabba utarne ke bhane kichen me Chup chapmummy ne shorts pahankar uksaya sex storiesXxx NAGI SHUT HINDI STORY PHOTOहवेली में सामुहिक चुदाईdesi vaileg bahan ne 15 sal ke bacche se chudwaipakistani mallika chudaei photnsrimpi xxx video tharuinbahu sexbaba comicAnurka Soti Xxx Photogupt antavana ke sex story nokar na chupchap dkhi didi ka sath लिंग की गंध से khus hokar chudvai xxx nonveg कहानीयोनी को मुह से छुनाmastram or kajri ki chudaiPahli bar muth marna sikha mastaram hindi sexi kahaniaNa chethilo chelli ki swrgamTai ji ki chut phati lund senayi naveli chachi ki bur ka phankajibh chusake chudai ki kahanibhaiya ne didi ke bra me bij giraya sex videohttps://forumperm.ru/Thread-%E0%A4%AC%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%BE-%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%B2%E0%A5%80-%E0%A4%A6%E0%A5%81%E0%A4%95%E0%A4%BE%E0%A4%A8indian actress mallika sherawat nangi nude big boobs sex baba photoAunty na car driver sa gand marvai storymaa ke sath nangi kusti khelijavan wife ki chudai karvai gundo seschool me chooti bachhiyon ko sex karna sikhanaBoobs ko shalana sote huyeanti beti aur kireydar sexbabagadrai ghodiya sex storiesantarvasna bina ke behkate huye kadam