Desi Porn Kahani मारवाड़ की मस्त मलाई
07-10-2018, 11:29 AM,
#51
RE: Desi Porn Kahani मारवाड़ की मस्त मलाई
हुआ उसकी गीली चूत के अंदर घुसने लगा. आहह क्या टाइट चूत थी उसकी. अब आशा के बूब्स मेरे सामने थे. मैं ने आगे बढ़ कर उसके बूब्स को चूसना शुरू कर दिया और उसने मेरे गर्दन मे हाथ डाल दिया और वो मस्ती मे मेरे लंड पे उछलने लगी. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मेरा लंड उसके पेट के अंदर तक घुसा हुआ है. आशा की आँखें मस्ती मे बंद हो गयी थी उसने कहा सर आपकी उस दिन होटेल वाली चुदाई से मुझे ऐसा मज़ा मिला के बता नही सकती और उस चुदाई को मैं ज़िंदगी भर नही भूल सकती और उस दिन से आज तक मुझे अपनी चूत मे सिर्फ़ आपका लंड महसूस होता है. आपके मूसल लंड ने मेरा दिन का चैन और रातो की नींद उड़ा रखी है. आपके लंड की तो पूजा करने को जी चाहता है. प्लीज़ सर एक बार फिर से मुझे दीवार से लगा के वोही स्टाइल मे चोद डालो सर तो मैं ने बोला के आशा मैं ने पहले ही बोला था के अब यह सर वर बोलना बंद करो और सीधे राजा या राज बोलो तो उसने हस्ते हुए कहा के भूल गयी थी सर ऊप्स राजा और हस्ते हुए मेरे से लिपट गयी और मेरे मूह मे पानी जीभ डाल के किस करने लगी. उषा ने आशा से पूछा के वो कैसे चोदा था राजा ने तेरे कू तो उसने बोला के अभी देख लो दीदी तुम खुद ही और मेरे कू किस करके बोली के मेरे स्वीट राजा उठो ना प्लीज़ और अपने लंड से ड्रिल करदो मेरी चूत को चोद चोद के फाड़ डालो.

मैने आशा की गंद को पकड़ लिया और लंड को उसकी चूत के अंदर रखे ही रखे अपनी जगह से उठ खड़ा हुआ. आशा का कुछ बॅलेन्स आउट हो रहा था इसलिए उसने मेरे गले मे बाहें डाले अपने आप को थोड़ा सा अड्जस्ट किया और मेरे लंड की सवारी करने लगी. आशा ने अपने पैरो के घेराव को मेरे बॅक पे टाइट कर दिया जिस से उसकी चूत और खुल गयी थी. उषा हम दोनो को हैरत से देखने लगी और मैं ने आशा को दीवार से टीका दिया. उषा भी हमारे साथ साथ दीवार तक चली आई. अब मैने आशा को दीवार से टीका दिया और पहले तो बॅलेन्स को अड्जस्ट किया और उसके बाद नीचे खड़े खड़े उसको चोदना चालू कर दिया. उसके हाथ मेरे गले मे पड़े हुए थे और पैर पीठ पे लपेटे हुए थे वो मेरे बदन से झूल रही थी. शुरू मे तो बॅलेन्स को अड्जस्ट करते हुए चोद रहा था और जब ग्रिप सही मिल गयी तो फिर क्या पूछना दोस्तो इतनी बुरी तरह से चोद रहा था के उसकी चूत की चॅम्डी और पंखाड़िया मेरे लंड के डंडे से चिपके हुए बहेर निकलते और लंड के डंडे के साथ ही अंदर चले जाते. उषा करीब खड़े बड़े इंटेरेस्ट से लंड और चूत का खेल देख रही थी. आशा मस्ती मे बोल रही थी छ्छूड्द्डूऊव म्‍म्मईएररीए र्र्राअज्ज्ज्जाआआअ हहाआईईईई बोहूऊऊवटतत्त मज़्ज़ाआआ हीईईई ययईएहह ककककचहुड्ददाआययययईईई मीईए हाअईए रीईई ऊऊऊऊईईईईईइ म्‍म्म्माआआआआ.

मेरे झटको से वो दीवार से लगी ऊपेर नीचे हो रही थी और मेरा लंड किसी हथौड़े की तरह से उसकी चूत को चोद रहा था. दोनो के बदन पसीने से भरे हुए थे. आशा की आँखें बहेर को निकल आई थी पेन और प्लेषर एक साथ दिखाई दे रहे थे उसके चेहरे से. मेरे लंड से अभी अभी मलाई निकली थी और अभी मैं जल्दी छ्छूटने वाला नही था इसी लिए मैं उसको पागलो की तरह से चोद रहा था. अब तक आशा तकरीबन 5 या 6 बार झाड़ चुकी थी जिसके चलते उसकी चूत बोहोत ही गीली हो गयी थी और वो आँखे बंद किए मस्ती से चुद रही थी. उसकी आँखो से प्लेषर के आँसू बह रहे थे चेहरा लाल हो गया था और आआआअहह उूुउऊहह सस्स्स्स्स्स्स्सस्स म्‍म्म्माआररर्र्र्र्र्र्ररर दददाअलल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्लूऊऊऊ पफाआद्द्द्द्द्द्दद्ड दददाअल्ल्लूऊऊऊऊ र्रर्राआाजजजज्ज्ज्ज्ज्ज हहाआआईईई आईसस्स्सीईए हहिईीई. मेरे धना धन धक्को से उसके बूब्स बड़ी मस्ती मे डॅन्स कर रहे थे जिन्है मे मूह मे ले के चूसने लगा. बहुत ही ज़ोर ज़ोर से और पूरी ताक़त से चोद रहा था और लंड उसकी चूत मे बड़ी बे दरदी से धक्के मार रहा था और लंड का सूपड़ा लगता था के उसकी गंद मे घुस जाएगा. मैं अब उसको पागलो की तरह से चोद रहा था और पचा पच की आवाज़ से कमरा गूँज रहा था और उषा हमै नशीली आँखों से देख रही थी उसका हाथ उसकी चूत का मसाज कर रहा था. अब मैं भी झड़ने के कगार पर आ चुका था और इतनी ज़ोर ज़ोर से चोद रहा था के आशा ने अब चिल्लाना शुरू कर दिया था हहाअईए र्रररीई म्‍म्माआआररररर द्ददडाअलल्ल्लाआअ सस्स्स्स्सस्स zzआआल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्लीईईईईईइम्म्

म्म्म्म्म्म्म्म ब्ब्ब्बबभूऊसस्स्स्द्द्दडाा ब्ब्बाआन्न्न्न्नाआआआ द्डडीईईई ऊवूऊवूवुउवुयियैआइयैयीयीयियी म्‍म्म्माआ और मेरा एक फाइनल झटका उसकी गीली चूत के अंदर इतनी ज़ोर से पड़ा के वो चिला उठी म्माआआअरर्र्र्र्ररर गगगगगगाआआययययईईई र्र्र्ररराज्ज्जज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज ब्ब्ब्बासस्स्स्स्स्स्सस्स ककककककाआआररर्र्रूऊऊऊ प्प्प्प्प्प्ल्ल्ल्ल्ल्लीईईईईzzzzzzzzzz और जैसे ही मेरे लंड से गाढ़ी गाढ़ी मलाई की पिचकारी निकल के उसकी बची दानी से टकराई वो मेरे बदन से बोहोत ज़ोर से लिपट गयी और एक बार और उसकी चूत फूट गयी और वो झड़ने लगी. मेरी मलाई निकलती रही पर मैं उसकी चूत को फिर भी चोद्ता ही रहा. धीरे धीरे मेरे धक्के कम हुए. थोड़ी देर के बाद जब मेरी मलाई पूरी तरह से निकल चुकी तो मेरी ग्रिप उसकी गंद से लूस हुई और लंड उसकी चूत से पच की आवाज़ के साथ बहेर निकल गया और आशा नीचे फ्लोर पे ऐसे गिर पड़ी जैसे उसके बदन मे जान ही नही रही हो. उसकी चूत से इतनी देर से रुका हुआ उसका जूस और मेरी मलाई उसकी चूत से बह के नीचे फ़राश पे टपकने लगी. मेरा लंड उसकी चूत से बहेर निकला तो वो हम

दोनो के जूस से भरा हुआ था और मेरे लंड के हेड से दोनो के जूस की बूँदें टपकने लगी तो उषा जल्दी से नीचे बैठ गयी और मेरे लंड को अपने मूह मे ले के चूसने लगी और बोली के हाई राजा इतनी कीमती मलाई को ऐसे टपकने नही दिया जाता और लंड मूह मे ले के चूस्ति चूस्ति बोली के वाह क्या मज़े दार है मीठी मीठी मलाई है तुम्हारी और वो मेरे लंड को चूस्ति ही रही. मैं खड़े खड़े थक गया था इसी लिए करीब पड़ी हुई बिना हाथ वाली चेर पे बैठ गया.

--
Reply
07-10-2018, 11:29 AM,
#52
RE: Desi Porn Kahani मारवाड़ की मस्त मलाई
मारवाड़ की मस्त मलाई पार्ट --29



गतांक से आगे........................

मेरे चेर पे बैठ ते ही उषा मेरे पैरो के बीचे मे घुटनो के बल बैठ गयी और मेरे कड़क आकड़े हुए लंड को चूस्ते हुए बोली के राजा क्या मस्त लंड है यार तुम्हारा जिस से शादी करोगे उस लड़की की किस्मेत जाग जयगी और सुहाग रात मे ही वो जन्नत पोहोच जाएगी. ऐसी पवरफुल चुदाई के बाद भी मेरा लंड नरम नही हुआ था. उषा बोली के मेरे पति का तो इतना कड़क कभी आज तक नही हुआ. वो साला भी लंड को अंदर डालता है और झाड़ जाता है झटके मारना तो दूर की बात है और तुम्हारे धक्के वह वह मैं तो तुम्हारी चुदाई देख के ही 2 – 3 टाइम झाड़ चुकी हू. मैं चेर पे पैर फैला के बैठा थे और उषा मेरे पैरो के बीच मे बैठी लंड चूस रही थी. थोड़ी देर मे ही मे ने उसका सर पकड़ लिया और उसके मूह को चोदने लगा.

मेरी सांसो को ठीक होने मे थोड़ा टाइम लगा. उषा भी लंड चूसने मे एक दम से एक्सपर्ट लग रही थी. मस्त स्टाइल मे लंड को चूस रही थी. कभी पूरा हलक के अंदर तक ले जाती तो कभी लॉली पोप की तरह से लंड का सूपड़ा चूस्ति. कुर्सी पे बैठे ही बैठे मे फिर उषा की चूत मे अपने पैर के अंगूठे से मसाज करने लगा जैसे आशा की चूत के साथ किया था. मेरा मानना था के जब मुझे वो मज़ा दे रही थी तो उसको भी मज़ा देना मेरा कर्तव्य है. उसकी चूत से मैं खेल रहा था और उसकी चूत भी गीली हो चुकी थी और अपनी चूत को आगे पीछे कर के जैसे मेरे पैर के अंगूठे से अपनी चूत को चुदवा रही थी. मैं अपनी जगह से उठा और उषा को भी नीचे से उठा लिया और हम दोनो सोफे पे बैठ गये. उषा मेरे लंड से खेलती रही और बोली के राजा इतने दिन कहा थे यार तुम ऐसा मस्त लंड तो मुझे चाहिए था और तुम इसे लिए घूम रहे हो तो मैं ने बोला के अब यह तुम्हारा ही है समझो. मेरे लंड को सभी लड़कियाँ पसंद करती है और ऐसी कल्पना करती है के उनके हज़्बेंड का लंड भी ऐसा ही शानदार हो. इतनी देर मे आशा के बदन मे जान वापस आ चुकी थी और वो नीचे से उठ चुकी थी. आशा लड़खड़ते कदमो से बाथरूम मे चली गयी और अपनी चूत को गरम पानी से धोया तब कही जा के उसकी जलती हुई चूत मे ठंडक पड़ गयी और उसे आराम आ गया.

उषा तो एक दम से गरम थी और वो एक बार फिर से झुक के मेरे लंड को अपने मूह मे ले लिया और चूसने लगी. मैं भी चाहता था के एक नयी चूत का स्वाद भी लिया जाए इसी लिए उषा को सोफे से उठाया और हम दोनो उसके बेडरूम मे आ गये. उषा का बेडरूम भी ठीक ठाक था. कमरे के बीच मे उसका डबल बेड पड़ा हुआ था जिसपे एक नीट आंड क्लीन बेडशीट बिछी हुई थी ऐसा लग रहा था के बेड चुदाई के लिए रेडी है. मैं बेड के किनारे पे बैठ गया और उषा ऑटोमॅटिकली मेरे सामने आ के खड़ी होगयी तो मैं ने उसकी चूत को किस किया और उसकी गंद पे हाथ रख के अपनी ओर खेच लिया और उसकी चूत को मज़े से चाटने लगा. उसकी चूत से उसके जूस के मधुर सुगंध आ रही थी. उषा ने मेरे सर को पकड़ लिया और मेरे मूह मे अपनी चूत को रगड़ने लगी. कभी मैं अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर डाल के चूस्ता तो कभी मूह बंद कर के दाँत बहेर निकाल देता तो वो अपनी क्लाइटॉरिस को मेरे दांतो से रगड़ देती. मैने भी अपने मूह मे उसकी चूत भर के डाला से काट डाला तो वो मस्ती मे पागल हो गयी और एक ही मिनिट के अंदर उसने मेरे सर को कस के पकड़ा और बोहोत ज़ोर से अपनी चूत मे दबा लिया और हिलते हुए झड़ने लगी. अब तो मैं भी उसको चोदने के लिया पागल हो चुका था. उषा को बेड के किनारे पे लिटा दिया जैसे उसकी टाँगें नीचे झूल रही थी और उसकी पीठ बेड पे थी. मैं उसके खुले पैरो के बीच आ गया और उस पे झुक गया जिस से मेरा लंड उसकी गीली गरम चूत की पंखदिओं से लगने लगा. मैं झुक के उसके चुचिओ को अपने मूह मे ले के चूसने लगा और उसके निपल्स को काटने लगा. उषा ने अपने पैर फैला लिए और मेरे बॅक पे लपेट के अपनी ओर खेचना स्टार्ट कर दिया.

मेरे गीले लंड मे से प्री कम निकल रहा था और लंड का सूपड़ा उसकी चूत के ऊपेर ही था तो उसने अपना हाथ दोनो के बदन के बीचे कर लिया और मेरे लंड को पकड़ के अपनी चूत मे घिसने लगी और फिर अपनी चूत के सुरक्ख मे सटा दिया. मुझे मेरे लंड के सूपदे के ऊपेर उसकी चूत के सुराख की गोलाई महसूस होने लगी तो मैं समझ गया के इसकी चूत भी अछी ख़ासी टाइट ही है. मैने अपने लंड को उसकी चूत मे प्रेस किया तो मेरे लंड का हेल्मेट जैसा मोटा सूपड़ा उसकी टाइट चूत मे घुस के अटक गया. उषा की चूत मेरे लंड के सूपदे को अपने अंदर महसूस कर ते ही उस ने मस्ती मे उछाल भरी और लंड का थोडा और भाग उसकी चूत मे उतर गया तो उसके मूह से उउउउउउउउफ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्

फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ जैसी आवाज़ निकल गयी और उसके हाथ मेरे बदन पे टाइट हो गये. मैं थोड़ी देर तक तो ऐसे ही लंड को थोड़ा सा हिस्सा ही अंदर बहेर करने लगा. उसकी चूत बोहोत ही गीली हो गयी थी और मेरे लंड के प्री कम से भी उसकी चूत अंदर से चिकनी हो गयी थी. मैं

अब उषा के मूह मे अपनी जीभ डाल दिया जिसे वो मज़े से चूसने लगी. जैसा के मैं पहले ही बता चुका हू के नयी चूत मे मुझे एक ही झटके मे अपना लंड अंदर घुसना पसंद है उसी तरह से मैं भी लंड को अंदर बहेर करता रहा और जब देखा के उषा का बदन रिलॅक्स है तो एक ही मूव्मेंट मे अपने लंड को सूपदे तक उसकी चूत से बहेर खेचा और एक ही सेकेंड के अंदर अपनी पूरी ताक़त और एक ही पवरफुल झटके मे उसकी चूत के अंदर अपने गरम लोहे जैसा सख़्त मूसल लंड को उसकी चूत की गहराइयों मे घुसेड दिया तो वो एक दम से चिल्लाई ऊऊऊऊऊऊऊओिईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईई म्‍म्म्ममममाआआआआआआआ उउउफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ और उसकी आँखें अपने सॉकेट से बहेर आ गयी और उसकी आँखो से आँसू निकल के गालो से होते हुए बेडशीट पे गिरने लगे. वो मुझ से बोहोत ज़ोर से चिमत गयी थी और अपने हाथो और पैरो से मुझे टाइट पकड़ लिया, उसका चेहरा तकलीफ़ से लाल हो गया था और उसके नाइल्स मेरी बॅक मे घुस गये थे. मैं अपने स्टाइल मे उसकी चूत के अंदर लंड को रखे थोड़ी देर उसके ऊपेर बिना धक्के लगाए लेटा रहा. मेरे पैर नीचे फ्लोर पे थे और मुझे ग्रिप अछी मिली हुई थी इसी लिए झटका भी बोहोत ही पवरफुल था और फिर नयी चूत को चोदने का उत्साह भी था. लंड उसकी टाइट चूत को फाड़ता हुआ उसके पेट के अंदर तक घुस चुका था और वो गहरी गहरी साँसे लेती हुई मेरे से चिपेटी पड़ी थी. वो एक शादी शुदा महिला थी पर फिर भी उसकी चूत अभी तक अछी ख़ासी टाइट थी. मेरे लंड को उसकी चूत ने अछी तरह से जाकड़ रखा था और मुझे अपने लंड पे उसकी टाइट चूत की ग्रिप महसूस हो रही थी. मेरा लंड उसकी गीली चूत के अंदर फूल रहा था.

थोड़ी देर तक ऐसे ही मेरे से चिपेटी पड़ी रही. फिर जब उसने अपनी गंद उठा के अपनी चूत को थोडा ऊपेर किया तो मैं समझ गया के अब इसकी चूत मेरे लंड से अड्जस्ट हो गयी है तो मैं ने धीरे धीरे उसको चोदना चालू कर दिया. अब वो भी चुदाई मे मेरा फुल साथ दे रही थी और मज़े से अपनी गंद उठा उठा के चुदवा रही थी और मुझे कंटिन्यू किस कर रही थी और अब उसको फुल मज़ा आने लगा था

अब लंड पूरे का पूरा उषा की टाइट चूत के अंदर घुस चुका था और फिर मैं ने चोदना चालू कर दिया. उसको भी चुदाई का बे इंतेहा मज़ा आने लगा और अब उसने अपनी गंद उठा उठा के अपनी चूत को मेरे लंड पे मारने लगी और उसकी चूत मेरे लंड को पूरी तरह से अपने अंदर वेलकम करने लगी. थोड़ी ही देर मे वो बोलने लगी फक मी राज्ज फक मी डार्लिंग चोद डालो ना राज्ज्जज आअहह ऐसे ही .ऊऊऊ राज्ज्जज्ज्ज्ज्ज बोहोत अछा लग रहा है राज्ज्जज आईसीई शियीयियैयीयीयियी

कक्चहूऊददडूऊव आअहह म्‍म्माइईईईईईईई. उसकी चूत के थोड़े से पंखाड़िया लंड के डंडे के साथ अंदर जाते और लंड के डंडे के साथ ही बहेर आते दोनो मस्ती मे चूर थे. उषा अपनी गंद उठा उठा के चुदवा रही थी और बोल भी रही थी आहह राअज्जजज्ज्ज्ज ययईएससस्स राअज्जजज्ज ईएह ककक्काऐईईससा म्माआज़्ज़्ज़्ज़ाआअ हीयियीयियी राअज्जजज्ज्ज ज़ियीयिन्न्न्ड्ड्डयेयगग्ज्जियीयी म्‍म्माइ आईएसस्साआ म्माआज़्ज़ाअ कककाबब्बभहिि न्न्नाह्ह्हीइ म्‍म्मिल्ल्लाआ. उसके बूब्स हर झटके से डॅन्स करने लगे और मैं ने उनको पकड़ के किसी आम की तरहसे चूसने लगा. धना धन चोद रहा था लंड चूत के अंदर बहेर अंदर बहेर किसी रेलवे एंजिन के शॅफ्ट की तरह से चूत के अंदर बहेर और जैसे ट्रेन की स्पीड तेज़ होती जा रही थी वैसे ही लंड से चूत की चुदाई की स्पीड भी तेज़ हो ती जा रही थी. चूत मे से 3 – 4 टाइम जूस निकल चुका था लैकिन मेरी मलाई निकलने का नाम ही नही ले रही थी.

मैं ने अपना लंड उसकी चूत से बहेर खेच लिया और उसको पलटा दिया और उसको वही बेड पर पेट के बल हाफ डॉगी स्टाइल मे लिटा दिया. उसके पैर अब नीचे फ्लोर पे थे मैं ने उसकी कमर मे हाथ डाल के उसकी गंद को थोड़ा ऊपेर उठाया जिस से उसकी सूजी हुई चूत सामने दिखाई देने लगी. मैं उसके ऊपेर झुक गया और उसकी बगल से हाथ डाल के उसके शोल्डर्स को पकड़ लिया ऐसे पोज़िशन मे लंड उसकी चूत के सामने था. मेरा लंड ऑटोमॅटिकली उसकी चूत के पंखदिओं के बीच आ गया जैसे मेरे लंड के सूपदे मे आँखें है और अपना रास्ता खुद ही तलाश कर रहा था. मेरा लंड का सूपड़ा अपनी चूत पे महसूस करते ही वो अपने आप को बेड पे अड्जस्ट किया और अपने हाथ बेड पे रख के फुल डॉगी स्टाइल मे आ गयी और उसने एक झटका पीछे लगाया तो मेरा गीला लंड उसकी गीली चूत के अंदर घुस गया. अब इधर से मैं उसको धक्के मार मार के चोद रहा था और उधर से वो पीछे झटके मार मार के अपनी चूत को मेरे लंड मे घुसा रही थी. दोस्तो शादी शुदा लड़कियों को चोदने का मज़ा कुछ और ही होता है वो बड़े मज़े से और स्टाइल से चुदवाती है. इसी तरह से उषा भी मस्ती मे मज़े ले ले के चुदवा रही थी और बोल रही थी के आअहह राअज्जजज्ज्ज आऐईएससीईए ह्ह्ह्ह्ह्हीईईईई कचूऊऊओद्द्दद्डूऊ लंड जब क्लाइटॉरिस से रगड़ ख़ाता हुआ चूत के अंदर घुसता है तो मज़ा कुछ और ही आता है आहह राअज्जजज्ज मुझे महसूस हो रहा है के मेरी क्लाइटॉरिस तुम्हारे लंड के साथ अंदर को जा रही है और लंड के साथ रगड़ा खा ते हुए वापस आ रही है. राज्ज्ज कियाअ मसत्टत् चोद्द्तीए हूओ तुउंम्म हहाआईए र्रर्राआआमम्म्म साल्ल्ल्लीई ककूउत्तट्तीईए और अब वो मस्ती मे चुद्वते चुद्वते गालियाँ निकाल रही थी. साल्ल्लीए बब्बीन्नकचछूड्दद हाईई कक्चहूओद्दड़ द्दालल्ल्ल्ल र्रररीई प्फ़ाआद्ड डाअल

म्माअद्डदीएरररर कक्चहूओद्दड़ और मैं उसकी कमर को टाइट पकड़े हुए बोहोत ही ज़ोर ज़ोर से चोद रहा था. लगता था के लंड उसकी चूत के अंदर घुस के उसके मूह से बहेर निकल जाएगा. मेरे हर झटके से वो आगे पीछे को हिल रही थी और वो खुद ही मेरी चुदाई की ताल से ताल मिला रही थी. मैं आगे को झटका मारता तो वो पीछे को झटका मारती जिस के चलते लंड उसकी चूत के बोहोत ही अंदर तक घुस रहा था और हर झटके से मुझे मेरे लंड के सूपदे पे उसकी बचे दानी का मूह महसूस होने लगता. थापा ठप की चुदाई की आवाज़ें आ रही थी. इतनी देर मे आशा बाथरूम से बहेर निकल आई थी और बेड के करीब पड़ी चेर पे बैठ के अपनी बड़ी बहेन को चुदते देख रही थी.
Reply
07-10-2018, 11:30 AM,
#53
RE: Desi Porn Kahani मारवाड़ की मस्त मलाई
मारवाड़ की मस्त मलाई पार्ट --30



गतांक से आगे........................

हर थोड़ी देर मे उषा का बदन अकड़ जाता, वो काँपने लगती, और झड़ती चली जाती. पता नही वो अब तक कितने टाइम झाड़ चुकी थी. उसकी चूत बे इंतेहा गीली हो गयी थी और अब मेरा लंड उसकी चूत मे आराम से अंदर बहेर हो रहा था. वो तो झड़ती ही चली जा रही थी पर मेरी मलाई निकलने का नाम ही नही ले रही थी. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे आज मेरी मलाई निकलने वाली नही पर लंड का एरेक्षन था के बढ़ता ही जा रहा था और हरर मिनिट उसकी सख्ती भी बढ़ रही थी और अब वो किसी स्टील के रोड की तरह से हो गया था. अब मैं अपने लंड के बेस को अपने हाथ से पकड़ के उषा की चूत मे घुसेड रहा था वो फुल मस्ती मे गंद हिला हिला के और पीछे झटके मार मार के चुद रही थी. मैं पूरा लंड उसकी चूत से बहेर निकाल निकाल के चूत के अंदर घुसेड रहा था. उसकी गंद पे मेरी नज़र पड़ी तो सोचा के यही सही टाइम है उसकी गंद भी मार दी जाए और यह सोचते ही मैं उसकी गंद मे लंड को घुसेड ने के मूड मे आ गया. मेरा लंड तो फुल गीला हो चुका था और उषा की आँखें मस्ती मे बंद थी. मैने करीब बैठी आशा को देखा और शरारत से उषा की गंद की तरफ इशारा कर के आँख मार दिया तो वो मुस्कुरा दी और बस उसी टाइम पे मैं ने अपने लंड को पूरा सूपदे तक बहेर खेच लिया और जैसे ही उषा की गांद पीछे की तरफ पूरी ताक़त से झटका मारा तो मैने अपने लंड का निशाना उसकी गंद की ओर कर दिया और गीला लंड उसकी टाइट गंद के रिलॅक्स्ड मसल्स को फाड़ता हुआ एक ही झटके मे उसकी गंद के पूरा अंदर जद्द तक घुस्स गया वो मचल गयी और गालिया देने लगी म्‍म्म्माअरररर द्द्द्दाआल्ल्ल्ल्लाआ हहाआऐईई र्र्रररीईई एम्म्मीयर्र्र्र्रियियीयियी ग्ग्ग्गाअन्न्न्द्द्द्द प्पफहाआटतत्त गेयीईयेयी र्रररीई साअल्लीए बब्बहाआड़द्द्वववीई त्त्तीर्ररिइ म्‍म्माआ कककुउउ कक्चहूओदददुऊऊउउ. मुझे पता था के वो गंद के अंदर लंड घुसते ही वो उछलने की कोशिश करेगी और अपनी गंद से मेरा लंड निकालने की कोशिश करेगी

इसी के चलते मैं उसको शोल्डर्स से टाइट पकड़ चुका था ता के वो आगे को निकल ना सके और लंड को उसकी गंद के अंदर घुसेड के रखा. उसकी गंद एक दम से टाइट थी लगता था के वर्जिन गंद थी अब तक उसके हज़्बेंड ने उसकी गंद नही मारी थी. उसकी गंद मेरे लंड पे बोहोत टाइट बैठी थी. वो बोली स्साअल्ल्लीईए म्‍म्माअद्द्दडीएरर्र्

रररककककचहूओद्दद्ड न्न्न्नीईइक्क्क्काआअल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल त्त्त्तीएर्र्रीईई माआ क्क्कीईइ गयन्न्नड्ड्ड माआररररर ससायाललीयये हाअईई रररीई अम्मियीयिरर्र्रियीयियी ग्ग्गयन्न्नड्ड प्प्फ्ह्ह्हाअत्त्त्तीईइ ऊऊईईइ म्‍म्म्माआ पर मैं इन गालिओ को सुनी अन सुनी कर के उसकी गंद मे अब अपने लंड को अंदर बहेर कर के उसकी गंद मार रहा था. थोड़ी देर मे जब उसकी गंद मेरे लंड की मोटाई से अड्जस्ट हो गयी तो अब वो मस्ती मे बोल रही थी आआहह र्र्ररराआज्जजज्ज्ज म्‍म्माअररर ड्ड्ड्डययाऑल अयेप्प्प्नन्नियियीई र्रर्राआंन्न्ँद्दद्डिईइ क्क्कीईइ व्व्वियैर्र्ग्ग्जियीयिन्न्न गयेन्न्न्ड्ड्ड मेरे धक्के कंटिन्यू चल रहे थे और अब वो मस्ती मे अपनी गंद मरवा रही थी तो मैं ने उषा से पूछा के उषा तेरी गंद इतनी टाइट है अभी तक तेरे पति ने तेरी गंद नही मारी क्या तो उषा झटके से बोल पड़ी वो साले भॅडव मदेर्चोद को चूत मारना नही आता तो गंद क्या मारेगा. उसके बूब्स लटके डॅन्स कर रहे थे तो मैं हाथ बढ़ा कर उनको पकड़ के मसल्ने लगा. वाह क्या बताउ दोस्तो उसकी टाइट वर्जिन गंद मारने का कितना मज़ा आ रहा था. आशा अपने बहेन की फटी गंद को देख रही थी जहा से थोड़ा थोड़ा खून भी निकल रहा था और जब मेरा लंड उसकी गंद से बहेर निकलता तो उसकी गंद इंग्लीश के “ओ” की तरह से खुली लग रही थी. दोस्तो किसी भी औरत की या लड़की की अचानक गंद मारने का भी एक अनोखा अनुभव है बोहोत मज़ा आता है बिना बताए बिना तय्यार किए उसकी गंद के पूरा अंदर तक लंड को घुसेड दिया जाए तो मज़े का क्या पूछना. कभी ट्राइ करके देखना दोस्तो कितना मज़ा आता है.

मेरी मलाई तो अभी निकलने वाली नही थी और यह बात उषा को अछी तरह से मालूम थी और इसी लिए उसने आशा को पहले चुदने दिया ता के मैं उसके मूह मे और उसकी चूत को चोद चोद कर अपनी मलाई निकाल दू और उसके बाद उषा को चोदु तो मेरी मलाई उतनी जल्दी नही निकलेगी और वो अपनी चूत को अछी तरह से चुदवा सकेगी. अब मैने पोज़िशन चेंज किया और मैं ने उसको बेड के ऊपेर पीठ के बल सीधा लिटा दिया तो उसकी टाँगें ऊपेर उठ गयी और मैं और फॉरन ही उसके टांगो के बीच आ गया और उसके ऊपेर झुक गया और लंड को उसकी गीली चूत मे पेल दिया तो उसने अपनी टाँगें खोल के मेरे लंड का स्वागत किया और मेरे गर्दन को पकड़ के अपने ऊपेर झुका लिया और किस करने लगी. अब पोज़िशन ऐसी थी के हमारे पैर बेड के हेड बोर्ड की तरफ थे. मैं ने अपने पैर पीछे को बेड की वुडन प्लांक के साथ लगा दिए और एक बार फिर से पूरी ताक़त से चोदने लगा. पैरो को

वुडन प्लांक की ग्रिप मिल रही थी और मैं ने उषा को टाइट पकड़ा हुआ था और इसी के चलते फुल पवर से चोद रहा था और उसकी चूत मे मेरा लंड पूरी ताक़त से घुस रहा था और उसकी बचे दानी के मूह मे लंड का सूपड़ा घुस रहा था. बड़ी बे दरदी से चोद रहा था और वो भी आहे भर भर के मस्ती मे चुदवा रही थी. मेरे एक एक झटके से उसका पूरा बदन हिल जाता था और चुचियाँ डॅन्स करने लगती थी. मैने उसके डॅन्स करती चुचिओ को पकड़ के अपने मूह मे भर लिया और चूसने लगा. बेड मेरे झटको की वजह से ऐसे हिल रहा था जैसे एअर्थ क्वेक आ गया हो और इतनी ज़ोर से हिल रहा था ऐसा लगता था जैसे अब टूट जाएगा. अब इतनी बेदर्दी से उसकी चूत को चोद्ते चोद्ते मेरी मलाई भी मेरे बॉल्स मे उबल ने लगी थी और मेरी स्पीड और तेज़ हो गयी और फिर मैने उषा को एक बार फिर बोहोत टाइट पकड़ लिया और लंड को पूरा हेड तक उसकी गीली चूत से बहेर खेच लिया और इतनी ताक़त से झटका मारा के वो एक बार फिर चिल्ला पड़ी हहाआईए म्‍म्माआरररर ड्ड्ड्डययाऑल्ल्लआयाआया ससॉयाललेयेयी द्द्धहीएररररीई न्न्न्नाअह्ह्हीइ कक्चहूओद्द सस्साआक्कककत्त्त्ताअ सीक्कियीयया और मैने उसकी चूत मे पूरा अंदर तक अपने लंड को घुसेड दिया जो शाएद उसकी बचे दानी के मूह के अंदर तक घुस्स गया और फिर मेरे लंड से क्रीम की गाढ़ी गाढ़ी गरम गरम मोटी मोटी धारिया ऐसे निकलने लगी जैसे पिस्टल से बुलेट और डाइरेक्ट बचे दानी को हिट किया और बचे दानी के खुले मूह मे गिरने लगी और उसकी बचे दानी मेरी मलाई से भर गयी. मेरी मलाई को अपनी बचे दानी मे महसूस कर ते ही उषा की चूत का बाँध एक बार और टूट गया और उसकी चूत से जूस बहने लगा. उषा को ऐसे लगा जैसे उसके सर मे लाखो पटकखे फूट रहे हो और बिजलियाँ चमक रही हो सर मे जैसे कोई बॉम्ब शेल गिरके फूट गया हो और जैसे उसको दिन मे तारे दिखाई देने लगे. मैं उसके ऊपेर गहरी गहरी साँसें लेता हुआ ढेर हो गया. उषा भी बोहोत ही गहरी गहरी साँसें ले रही थी. हम दोनो के बदन पसीने मे भरे हुए थे. मेरी आँखें भी बहेर निकल आई थी मैं इधर उधर ऐसे देख रहा था जैसा के मेरी समझ मे नही आ रहा था के क्या हो रहा है. और आशा अपनी कुर्सी से उठी और अपनी बहेन के सर मे हाथ फेरने लगी. मैं तो उषा के बदन पे ही ढेर हो गया था फिर मुझे पता नही के हम दोनो इसी तरह से कितनी देर पड़े रहे. फिर मैं कब उसके बदन के ऊपेर से उसके साइड मे लुढ़क के सो गया पता ही नही चला.

आँख खुली तो मैं और उषा नंगे बेड पे पड़े थे. उषा अभी सोई पड़ी थी और आशा वाहा नही थी. मैं उठ के कमरे से बहेर आया तो देखा के आशा खाना बना रही थी और इस समय रात के 11 बज चुके थे. मैं आशा के करीब आ गया और नमस्ते

बोला तो वो मुस्कुरा दी और नमस्ते बोली और बोली के तुम ने देखा राजा तो मैं ने पूछा क्या देखा तो उसने बोला के बेडशीट को नही देखा तो मैं ने बोला के नही क्यों क्या हुआ बेडशीट को तो उसने बोला के जाओ और खुद देख लो तो मैं कमरे मे वापस आया और कमरे की लाइट खोल दिया और लाइट के खुलते ही उषा की आँख भी खुल गयी और वो मेरी तरफ मुस्कुरा के देखने लगी तो मैं उसके करीब आ गया तो उषा ने मेरे गर्दन मे अपनी बाहें डाल के मुझे झुका लिया और किस किया और बोला के राजा क्या मस्त लंड है यार तुम्हारा और आज तो ऐसा मज़ा आया के मैं क्या बताउ ज़िंदगी मे ऐसा मज़ा कभी भी नही आया था तो मैं मुस्कुरा दिया. उषा बोली के राजा मेरी एक बात मनोगे तो मैं ने बोला के हा बोलो ना तो उसने बोला के राजा प्लीज़ मुझे कम से कम हफ्ते मे एक या दो टाइम चोदना. जब भी मेरा पति बहेर जाएगा मैं तुमको फोन कर्दुगि और तुम मेरे घर आ के मुझे चोद जाना तो मैं ने बोला के कोई बात नही तो उसने फिर बोला के एक बात और मनोगे क्या प्लीज़ तो मैं ने बोला के ठीक है बोलो और क्या चाहिए तुम्है तो उसने बोला के राजा मुझे तुम्हारा एक बच्चा चाहिए तो मैं मुस्कुरा दिया और बोला के तुम्हारे पति को शक होगया तो क्या होगा तो उसने बोला के तुम उसकी फिकर ना करो बॅस मेरी कोख मे अपना बच्चा डाल दो तो मैं ने बोला के ठीक है चलो वो भी मान लिया तो वो मुस्कुरा दी और मुझे एक बड़ा ज़बरदस्त चुम्मन दिया और अपने जगह से उठ गयी तो मैं ने देखा के उसकी चूत के पंखाड़िया सूज के मोटे और लाल हो गये थे बेडशीट पे उसकी चूत से निकला खून का पूल बना हुआ था और खून सूख के उसकी गंद और चूत पे लगा हुआ था तो वो बोली के हा मुझे आशा ने बताया था के कैसे तुम ने वो शादी शुदा औरत की चूत से खून निकाल दिया था होटेल मे तो मैं ने यकीन नही किया था पर अब मुझे यकीन हो गया के इस प्यारे और शानदार लंड मे इतनी ताक़त है के किसी भी चूत या गंद से काफ़ी हद तक खून निकाल दे.

मैं और उषा नंगे ही बाथरूम मे चले गये. उसके नंगे बदन को देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा हो चुका था. हम दोनो शोवर्र के नीचे आ गये. उषा नीचे बैठ गयी और मेरे लंड को अपने मूह मे ले के चूसने लगी और इतनी ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी के थोड़ी ही देर मैं मेरी मलाई निकलने लगी जिसे उसने बड़े मज़े ले ले के चूस लिया और एक ज़बरदस्त डकार मारी और बोली के मेरा नाश्ता तो हो गया तो फिर हम दोनो हस्ने लगे.

शवर ले के दोनो बहेर आए. मैं ने आशा से बोला के तुम्हारी गंद उधार रही फिर कभी मारूँगा तो उसने बोला के घर आए मेहमान को हम ऐसे अनसेटाइसफाइ किए वापस नही जाने देते. आ जाओ मेरे राजा मैं तय्यार हू अपनी वर्जिन गंद को तुम्हारे मूसल पे क़ुरबान करने के लिए तो उषा ने बोला के हा राजा चलो

मेरी गंद मारते तो उसने देखा अब मुझे भी देखना है के आशा की गंद कैसे फॅट ती है तो मैं ने बोला के ठीक है आ जाओ. उसको ले के मैं बेडरूम मे आ गया और बोला के कोनसि स्टाइल मे गंद मरवाना पसंद करोगी. . बेड पे डॉगी स्टाइल मे या यही नीचे जैसे उषा की गंद मारी थी तो वो कुछ देर सोच मे पड़ गयी और बोली के लैकिन एक शर्त है राजा तो मैं ने बोला के वो क्या तो उसने बोला के जैसे उषा की गंद फाडी थी उसी तरह से फाड़ना. मैं ने देखा जब उषा की गंद मे तुम्हारा मूसल घुसा था तो मेरे बदन मे करेंट दौड़ गया था तो मैं ने बोला के ठीक है और फिर उसको भी उसी स्टाइल मे फ्लोर पे डॉगी स्टाइल मे खड़ा किया और उसकी चूत मे लंड डाल दिया और चोदने लगा और उसकी गंद मे अपना थोड़ा थोड़ा थूक डालने लगा. एक बार फिर से वो मस्ती मे चुदवाने लगी और एग्ज़ॅक्ट्ली वैसे ही पोज़िशन मे अपने लंड के बेस को पकड़ लिया जो उसको नही मालूम हुआ और अपने लंड को पकड़ के उसकी चूत मे घुसेड रहा था और फिर लंड बोहोत ही गीला हो रहा था. इस बीच मैं ने उषा को बुलाया और जहा पहले आशा बैठी थी वाहा उसको बैठ ने को बोला तो वो वाहा बैठ गयी और चुदाई देखने लगी. और फिर एग्ज़ॅक्ट्ली वैसे ही आशा भी उषा की तरह से अपनी गंद को आगे पीछे कर के धक्के लगवा रही थी और फिर सच दोस्तो पूरी पोज़िशन और सिचुयेशन वैसे ही बनती चली गयी और मैं ने अपना लंड पूरा बहेर निकाल लिया और उसी दंम चूत के बजाए उसकी गंद के अंदर घुसेड दिया. वो भी वैसे ही चिल्ल्लायईी पर उसने गालियाँ नही निकाली. वो रो रही थी तकलीफ़ से उसका चेहरा लाल हो गया था. मैं उसकी गंद मार रहा था ज़ोर ज़ोर से लंड को पूरा जड़ तक घुसा के गंद मार रहा था वो तकलीफ़ से बेड पे गिर गयी उसके पैर अभी भी फ्लोर पे ही थे और वो पेट के बल बेड पे गिर पड़ी. मैं भी उसके ऊपेर झुक गया अब मैं भी दीवाना हो गया था और उसकी गंद को बड़ी बे दरदी से मार रहा था. जैसे उसके मूह से आवाज़े निकल रही थी लगता था के वो बोहोत तकलीफ़ मे है और उसकी गंद मे दरद हो रहा है. मैं बोहोत ज़ोर ज़ोर से गंद मार रहा था मेरे बॉल्स उसकी चूत के पंखदिओं से टकरा रहे थे जिस से उसकी चूत मे से जूस निकलने लगा और फिर एक इतनी ज़ोर का झटका मारा के वो बिलबिलने लगी और चीलाई आआहह म्‍म्माआआआररर्र्ररर गग्ग्गाआऐईई र्र्र्र्र्रररीईईईईई उउउउउउउउउउउउउउफ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ और मैने उसको बोहोत ही टाइट पकड़ के लंड को उसकी गंद के बोहोत अंदर तक घुसेड दिया और उसकी गंद के अंदर ही अपने क्रीम निकालने लगा. मेरे लंड से फव्वारा निकल रहा था पर मेरे झटके कम नही हुए थे और हर झटके से मलाई निकल रही थी. और फिर लंड को उसकी गंद के अंदर ही रखे रखे मैं भी उसकी पीठ के ऊपेर ढेर हो गया.
Reply
07-10-2018, 11:30 AM,
#54
RE: Desi Porn Kahani मारवाड़ की मस्त मलाई
आशा को बोला के मेरी आशा रानी तुम्हारी गंद और चूत बोहोत ही टाइट है मुझे बोहोत मज़ा आया तुम्है चोद के और गंद मार के तो उसने बोल के राजा यह चूत और गंद तुम्हारी ही है. मैं अभी और एक मोन्थ के लिए यही हू और हमारे घर मे तुम्हारा हर वक़्त स्वागत है तुम कभी भी आओ मैं और दीदी दोनो तुम्हारे शानदार लंड से चुदवाने को हमेशा तय्यार मिलेगे तो मैं हंस दिया और बोला के हा तुम दोनो को चोदने के लिए आया करूगा.

रात का खाना रेडी हो गया था तो हम तीनो ने खाना खाया और फिर मैं अपनी बाइक निकल के जाने लगा तो देखा आशा और उषा की आँखो मे आँसू थे तो मैं ने बोला के अरे पागल हो गये हो क्या तुम लोग, रो क्यों रहे हो तो बोले के नही राजा यह तो खुशी के आँसू है हम दोनो तुम से प्यार करने लगे है और अब यह घर तुम्हारा है और हम दोनो के ऊपेर तुम्हारा हक़्क़ सब से पहले है तो मैं ने अपने हाथो से दोनो के आंससू पूछे और बोला के तुम लोग रो नही मैं वादा करता हू के मैं तुम्हारे घर को रेग्युलर आउन्गा और तुम दोनो को सॅटिस्फाइ करुँगा. आशा और उषा दोनो मुस्कुरा दिए और मैं अपनी बाइक पे बैठ के वाहा से बाइक को अपने घर की तरफ मोड़ के चला गया.

रास्ते मैं ही था के पूजा आंटी का फोन आया बोली के मुबारक हो राजा तुम एक और लड़के के बाप बनने वाले हो. डॉक्टर कविट ने कन्फर्म कर दिया है के पायल प्रेग्नेंट है तो मैं बोहोत खुश हो गया और बोला के आंटी मैं आपके और आपके परिवार के लिए कुछ भी कर सकता हू तो आंटी दूसरी तरफ रोने लगी और बोली के थॅंक्स मेरे राजा तुमने हमारे परिवार पर बोहोत बड़ा उपकर किया है जिसे मैं ज़िंदगी भर उतार नही पाउन्गी तो मैं ने बोला के अरे मेरी आंटी जान ऐसे क्यों बोल रही हो आप. आपने अपनी चूत और गंद मुझे दे दी इस से बढ़ के और क्या लू आपसे तो आंटी बोहोत ही धीरे से बोली के वो तो अभी भी तुम्हारी ही है तुम जब चाहो तुम्है मिल जाएगी तो मैं फोन पे किस करने लगा तो आंटी भी किस करने लगी और मुझे लगा जैसे आंटी मेरे से बात कर ते कर ते रो पड़ी हो.

पहले पिंकी को बेटा हुआ और उसके 4 महीने के बाद पायल ने भी एक बोहोत ही क्यूट से बेटे को जनम दिया. अब मेरे दो बेटे दो मारवाड़ी परिवार मे पल रहे थे. दोनो परिवार बोहोत ही खुश थे. उधर लाला भी बोहोत एग्ज़ाइटेड था और इधर शांति भी ख़ुसी से उछलने लगा था और मेरा शुक्रिया अदा करते नही थकता था.

दोस्तो इसी तरह से मेरी ज़िंदगी गुज़रने लगी मुझे लग रहा था जैसे मैं एक प्लेबाय टाइप का जिगलो बन गया हू और मेरी

ज़िंदगी मे 5 शादी शुदा औरतें पूजा आंटी, सुनीता आंटी, पिंकी, पायल और उषा थी जिन्है मैं अभी भी चोद्ता हू और 2 कुँवारी लड़कियों की चूत मेरे लिए हमेशा ही रेडी रहती. लक्ष्मी और आशा की चूते मैं जब भी मौका मिलता देता चोद देता हू.
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Muslim Sex Stories सलीम जावेद की रंगीन दुनियाँ sexstories 69 6,270 Yesterday, 11:01 AM
Last Post: sexstories
Lightbulb Antarvasna Sex kahani वक़्त के हाथों मजबूर sexstories 207 72,797 04-24-2019, 04:05 AM
Last Post: rohit12321
Thumbs Up bahan sex kahani बहन की कुँवारी चूत का उद्घाटन sexstories 44 23,670 04-23-2019, 11:07 AM
Last Post: sexstories
mastram kahani प्यार - ( गम या खुशी ) sexstories 59 58,398 04-20-2019, 07:43 PM
Last Post: girdhart
Star Kamukta Story परिवार की लाड़ली sexstories 96 47,973 04-20-2019, 01:30 PM
Last Post: sexstories
Thumbs Up Sex Hindi Kahani गहरी चाल sexstories 89 81,744 04-15-2019, 09:31 PM
Last Post: girdhart
Lightbulb Bahu Ki Chudai बड़े घर की बहू sexstories 166 246,402 04-15-2019, 01:04 AM
Last Post: me2work4u
Thumbs Up Hindi Porn Story जवान रात की मदहोशियाँ sexstories 26 26,776 04-13-2019, 11:48 AM
Last Post: sexstories
Star Desi Sex Kahani गदरायी मदमस्त जवानियाँ sexstories 47 36,456 04-12-2019, 11:45 AM
Last Post: sexstories
Exclamation Real Sex Story नौकरी के रंग माँ बेटी के संग sexstories 41 33,355 04-12-2019, 11:33 AM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


मेरे पापा का मूसल लड सहली की चूत मरीboor me jabardasti land gusabe walaचुत मे दालने वाले विडीयोsbjaji se chut ki chudiwww.maa-muslims-ke-rakhail.comxxx desi masty ajnabi ladki ko hhathe dekha.hindi storytelugu tv series anchor, actress nudes sexbabanet..राज shsrma की hasin chuadi stori में हिन्दीचुतदEnglish girl bakabu xxnxmalayalam acter sexbaba.com page 97ghar ki kachi kali ki chudai ki kahani sexbaba.comnagan karkebhabhi ko chodaझवले तुला पैसे मलाpryia prakash varrier nudexxx imagesxnxxxx.jiwan.sathe.com.ladake.ka.foto.naam.pata.Sarkar ne kon kon si xxxi si wapsite bandkarihianxxx.sari.wali.petikot.upar.tang.ke.pisap.karti.video.w...bahu nagina sasur kaminamummy ne shorts pahankar uksaya sex storiesamala paul sex images in sexbabaFree new maa ki tanhai bete ne door ki kahanisouth actress fucking photos sexbabaDesi adult pic forumindian sex.video.नौरमल mp.3bhabhi ka chut choda sexbaba.net in hindieesha rebba sexbabaभाईचोदbhai ka hallabi lund ghusa meri kamsin kunwari chut mainbathroomphotossexHotel ki sexi kahaniyanBur chatvati desi kahaniyaxxx babhi ke chuadi bad per letakerkhala ko raat me masaaje xxx kahaniAunty ko jabrdasti nahlaya aur chodaDidi chud gyi tailor seaunty apny bachon ko dodh pila rhi thix xxx gand me chodkar tatti nikalne ka sex videonoonoo khechA sex vediomeri.bur.sahla.beta.Nasamajh indian abodh pornkis chakki ka aata khai antarvasnaधत बेशरम , बहनों से ऐसे थोड़े ही कहते है hot storydaya bhabhi blouse petticoat nude sex picsexbaba actressxxx nypalcomBabita ji incest Hindi sex storiesसेक्सी,मेडम,लड,लगवाती,विडियोindian girls fuck by hish indianboy friendssमराठिsex video 16 साल लडकी Bollywood ki hasina bebo ka Balatkar Hindi sex storypirakole xxx video .commalish k bad gandi khaniBadala sexbabaChut khodna xxx videoma ko chodkar ma ko apni shugan banaya vayask kahanisaamnyvadimona ke dood se bhare mamme hindi sex storyxxx video maa na chote lakdi ke chudbaisouth actress fucking photos sexbabamajaaayarani?.comSexy Aunty's ki lopala panty kanpistundimeri biwi kheli khai randi nikli sex storyXxx rodpe gumene wala vidioभाई मेरी गुलाबी बुर को चाट चाटकर लाल कर दियाಹೆಂಗಸರು ತುಲ್ಲಿಗೆ ಬಟ್ಟೆmadhvi ki nangi nahati sex story tarrakचुत गिली कयो विधिमालिश करता करता झवले मीaunty ki xhudai x hum seterbahean me cuddi sexbaba.netcurfer mei didi ka dudh piyakapade fhadna sex Maa ko chudwata aunkle se भाई मेरी गुलाबी बुर को चाट चाटकर लाल कर दियाfhigar ko khich kar ghusane wala vidaeo xnxxAurat.ki.chuchi.phulkar.kaise.badi.hoti.hai.sexbaba chut ka payarSath rahniya ka Raat suhagraat manane ka videowww xvideos com video45483377 8775633 0 velamma episode 90 the seducer